Ad
देश
मवेशियों को लावरिस छोड़ने पर पशुपालक के खिलाफ होगी कार्रवाई: जिलाधिकारी
By Swadesh | Publish Date: 11/1/2019 2:53:23 PM
मवेशियों को लावरिस छोड़ने पर पशुपालक के खिलाफ होगी कार्रवाई: जिलाधिकारी

कानपुर। मुख्यमंत्री के आदेश के बाद जिला प्रशासन आवारा पशुओं को लेकर सख्त रूख अख्तियार कर लिया है। जिलाधिकारी ने शुक्रवार को साफ कहा कि जनपद में मवेशियों को लेकर जिले में धारा 144 (निषेधाज्ञा) लागू कर दी गयी है। यदि पशु स्वामी अपने पशुओं को सड़क पर लावारिस छोड़ेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यही नहीं धारा 188 (144 का उल्लंघन) में एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी। यदि सड़कों पर घूमते पशुओं से दुर्घटना में किसी की मौत होती है तो पशुपालक पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया जाएगा। 

 
कानपुर जिला प्रशासन ने आवारा पशुओं पर बड़ा फैसला लेते हुए जिले में धारा 144 लागू कर दी। इस आदेश के बाद कोई भी पशुपालक अपने पशुओं को लावारिस सड़को पर नहीं छोड़ेगा और उसे अपने परिसर में ही बांधकर रखेगा। इसके अलावा नगर निगम का कैटल कैचिंग दस्ता भी शहर में घूम-घूम कर आवारा पशुओं की धर पकड़ कर रहा है। पकडे़ गए पशुओं के पशुपालकां पर जुर्माना कर उनके पशुओं को छोड़ा जाएगा। इसके साथ ही पशुपालकों को भविष्य की चेतावनी भी दी जाएगी। 
 
जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत ने इस सख्त कार्यवाही की जानकारी देते हुए कहा कि नगर और ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग व्यवस्था की गई है। आवारा पशुओं को पकड़ कर काजी हाउस में रखा जाएगा। आवारा पशुओं का आंकड़ा इकट्ठा कर लिया गया है। इस बड़ी समस्या का हल जल्द ही पूरा होगा। बताते चलें कि फसल की बर्बादी से आजिज होकर कई बार सरकारी स्कूलों में किसान आवारा जानवरों को बंद कर चुके हैं। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS