देश
जेईई मेन 2019 का परिणाम घोषित, 15 उम्मीदवारों को मिले 100 पर्सेंटाइल
By Swadesh | Publish Date: 19/1/2019 5:00:09 PM
जेईई मेन 2019 का परिणाम घोषित, 15 उम्मीदवारों को मिले 100 पर्सेंटाइल

नई दिल्ली। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी(एनटीए) ने शनिवार को संयुक्त प्रवेश परीक्षा-मुख्य(जेईई-मेन) का परिणाम घोषित कर दिया। लगभग 8.75 लाख छात्रों ने यह परीक्षा दी थी, उनमें मध्य प्रदेश के ध्रुव अरोड़ा सहित 15 छात्रों ने 100 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए हैं। 

 
एनटीए की प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, जनवरी में आयोजित जेईई मेन के पहले संस्करण में 15 उम्मीदवारों ने 100 पर्सेंटाइल अंक हासिल किए हैं। इसमें ध्रुव अरोड़ा (मध्य प्रदेश), राज आर्यन अग्रवाल (महाराष्ट्र), अडेली साई किरण (तेलंगाना), बोजा चेतन रेड्डी (आंध्र प्रदेश), साम्बित बेहरा(राजस्थान), नमन गुप्ता (उत्तर प्रदेश), यन्दुकुरी जयंत फणी साई (तेलंगाना), विश्वनाथ के. (तेलंगाना), हिमांशु गौरव सिंह(उत्तर प्रदेश), केविन मार्टिन(कर्नाटक), शुभंकर गंभीर (राजस्थान), बत्तीपति कार्तिकेय (तेलंगाना), अंकित कुमार मिश्रा (महाराष्ट्र), जयेश सिंगला(पंजाब), गुप्ता कार्तिकेय चंद्रेश (महाराष्ट्र) हैं।
 
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने परीक्षा में शानदार प्रदर्शन करने वाले सभी छात्रों और एनटीए टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि एनटीए ने 8 और 12 जनवरी के बीच आयोजित जेईई मेन परीक्षा के परिणाम रिकॉर्ड समय में और निर्धारित समय से 12 दिन पहले घोषित किए। यह एनटीए टीम की उन्नत तकनीक और अथक प्रयास के कारण संभव हुआ। उन्होंने कहा कि पहली बार एनटीए ने पर्सेंटाइल आधारित स्कोरिंग का उपयोग किया है। यह अधिक वैज्ञानिक है और दुनियाभर में सर्वश्रेष्ठ परीक्षा में इसका इस्तेमाल किया जाता है। उन्होंने कहा कि अप्रैल 2019 में होने वाली दूसरे चरण की जेईई परीक्षा के बाद रैंक घोषित की जाएगी। पहली बार छात्रों के पास अपने प्रदर्शन को सुधारने का मौका है। यह छात्रों के लिए नरेन्द्र मोदी सरकार की देखभाल और परीक्षा के तनाव को कम करने की कोशिश है।
 
देश और विदेश में 258 शहरों में प्रतिदिन दो शिफ्टों में 8 जनवरी से 12 जनवरी, 2019 के बीच एनटीए द्वारा आयोजित पहली जेईई मेन परीक्षा के नतीजे ऑनलाइन जारी कर दिए गए। उम्मीदवारों को आवेदन संख्या और जन्म तिथि दर्ज करने के बाद आधिकारिक वेबसाइट पर परिणाम देख सकते हैं। इस परीक्षा में कुल 9,29,198 उम्मीदवारों ने पेपर 1 (बी.ई. और बी.टेक में प्रवेश के लिए इंजीनियरिंग और तकनीकी संस्थानों में और जेईई एडवांस की पात्रता के लिए) के लिए पंजीकृत किया गया था। राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) ने परिणाम जारी करने से पहले जेईई मेन उत्तर कुंजी जारी की थी।
 
परीक्षा के लिए देश और विदेश में 467 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। परीक्षा को सुचारू और सुरक्षित कराने के लिए 566 पर्यवेक्षक, 254 सिटी कॉर्डिनेटर और 25 राज्य कॉर्डिनेटर तैनात किए गए थे। पेपर-1 को 9-12 जनवरी तक कुल आठ पालियों में लिया गया है। परीक्षा में कुल 8,74,469 छात्र बैठे थे।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS