देश
सज्जाद खान ने पूछताछ में किया खुलासा, एक माह पहले से थी पुलवामा हमले की जानकारी
By Swadesh | Publish Date: 23/3/2019 3:27:10 PM
सज्जाद खान ने पूछताछ में किया खुलासा, एक माह पहले से थी पुलवामा हमले की जानकारी

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हत्थे चढ़े जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी और पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड मुदस्सिर के सबसे करीबी आतंकी सज्जाद खान ने पूछताछ में यह खुलासा किया है कि पुलवामा हमले की साजिश की जानकारी उसे करीब एक माह पहले से ही थी। 

 
इतना ही नहीं हमले के पहले और बाद की जानकारी मास्टर माइंड ने व्हाट्सऐप कॉल कर सज्जाद को दी थी। उसने पुलवामा हमले के पहले ही दिल्ली में हमले की तैयारी करने के भी निर्देश दिए थे। इसके लिए सज्जाद को उसने दिल्ली भेजा था। वह मुदस्सिर के अलावा गाजी रशीद उर्फ कामरान और पाकिस्तानी आतंकी यासिर के निर्देश पर काम कर था। जांच एजेंसी अब उससे पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास कर रही कि नेटवर्क खड़ा करने के लिए वह आखिरकार किन-किन लोगों से मिला और वह दिल्ली में कितनी बार आया और किन-किन जगहों की रेकी की? उससे पूछताछ कर यह भी पता लगाया जा रहा है कि करीब तीन महीने पहले स्पेशल सेल के हत्थे चढ़े जैश के दो आतंकियों अब्दुल लतीफ गनी और हिलाल अहमद भट्ट से सज्जाद की मुलाकात हुई थी या नहीं? 
 
खुफिया एजेंसियों को थी जानकारी
पुलवामा हमले के बाद जांच एजेंसियों ने पिछले दिनों ही यह खुलासा किया था कि पुलवामा हमले की साजिश आईएसआई ने जैश-ए-मोहम्मद, तालिबानी आतंकवादियों व हक्कानी नेटवर्क की साझा बैठक के दौरान महीने भर पहले ही रची थी। उस समय दिल्ली में भी बड़े हमले करने के निर्देश दिए गए थे, जिसके लिए पुलवामा हमले के मास्टर माइंड मुदस्सिर के इस गुर्गे को जैश के संगठन के लिए बेस तैयार करना था। 
 
अबू बकर ने सात हैंड ग्रेनेड दिए थे
स्पेशल सेल के अनुसार लतीफ गिनाई से पूछताछ में यह भी पता चला कि पाकिस्तान में बैठे उसके आका व जैश कमांडर अबू मौजा उर्फ अबू बकर ने उसे ग्रेनेड मुहैया कराए थे। अबू मौज़ा ने उन्हें पिछले साल नवंबर में आकिब नाम के एक व्यक्ति द्वारा सात हैंड ग्रेनेड दिए गए थे। हालांकि दिल्ली में हमले के लिए जिस ग्रेनेड को लेकर आने की तैयारी थी, उसे स्पेशल सेल ने श्रीनगर पुलिस के साथ मिलकर वहां छोपमारी कर बरामद कर लिया था। पूछताछ में यह भी पता चला है कि चार महीने तक आतंकी दिल्ली के यमुनापार इलाके में स्थित लक्ष्मी नगर व वजीराबाद इलाके में आकर ठहरे थे। 
 
भतीजे को मारे जाने से था गुस्से में
सुरक्षा एजेंसियों के हाथ मौलाना मसूद अजहर का एक ऑडियो लगा है। इसमें वह अपने भतीजे उस्मान का जिक्र कर रहा है। इस ऑडियो में वह कश्मीर से लेकर भारत के विभिन्न इलाकों में हमला करने का निर्देश दे रहा है। उसे साफ तौर पर यह कहते हुए सुना गया, 'कश्मीर के नौजवानों क्या उस्मान की शहादत आप सबको खड़ा करने के लिए काफी नहीं है।’
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS