देश
पूर्वांचल में ऐतिहासिक जीत का शाह ने रचा चक्रव्यूह, हर बूथ जीतने का संकल्प
By Swadesh | Publish Date: 13/4/2019 3:17:40 PM
पूर्वांचल में ऐतिहासिक जीत का शाह ने रचा चक्रव्यूह, हर बूथ जीतने का संकल्प

वाराणसी। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने वाराणसी सहित पूर्वांचल की 27 संसदीय सीटों को जीतने के लिए चुनावी चक्रव्यूह रच दिया है। 

पूर्वांचल को फतह करने के लिए शाह ने हर बूथ पर कम से कम बीस कार्यकर्ताओं को तैनात करने का निर्देश पार्टी के स्थानीय क्षत्रपों को दिया है। इसके बाद प्रदेश नेतृत्व इस​ दिशा में जुट गया है। भाजपा रणनीतिकारों के मुताबिक इस सियासी चक्रव्यूह को भेद पाना विपक्ष के लिए मुश्किल होगा और एक बार फिर पूर्वांचल में पार्टी का दबदबा कायम होगा। 
 
दरअसल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नामांकन की तैयारियों और पूर्वांचल की 27 सीटों के चुनाव तैयारियों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार की देर शाम अमित शाह यहां आये थे। उन्होंने हरहुआ स्थित गोकुल धाम में पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक की और सियासी माहौल की नब्ज टटोली। 
 
प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेन्द्र नाथ पाण्डेय, केन्द्रीय मंत्री तथा यूपी चुनाव प्रभारी डॉ. जेपी नड्डा व संगठन के वरिष्ठ चयनित पदाधिकारियों के साथ कोर कमेटी की बैठक में पूरी चुनाव तैयारियों का ‘‘फीडबैक’ लेने के बाद शाह ने अलग-अलग पदाधिकारियों से अकेले भी बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव के मुकाबले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जीत का अंतर दोगुना हो। 
 
बैठक में शाह ने कहा कि पूरी पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर देश भर में वोट मांग रही है, ऐसे में उनकी अपनी सीट काशी पर ऐतिहासिक जीत होनी चाहिए। पार्टी सूत्रों ने बताया कि शाह ने बैठक में बूथ स्तर पर काम करने को कहा। 
 
इस दौरान उन्होंने पार्टी के सर्वे के आधार पर पूर्वांचल की 27 सीटों की चुनावी समीक्षा की। पूर्वांचल की पांच लोकसभा सीटों पर मजबूती से खड़े गठबंधन की चुनौती को देख इन सीटों पर अधिक मेहनत करने को कहा। शाह ने कहा कि यहां मतदान का प्रतिशत बढ़ाकर ही गठबंधन को हराया जा सकता है। 
 
बैठक में उन्होंने मुद्दों पर आधारित चुनाव प्रचार अभियान चलाने पर जोर दिया। कहा, विपक्ष के पास मुद्दे नहीं हैं। आप जनता के बीच जाये और सरकार के पांच साल के काम और प्रधानमंत्री मोदी के दमदार नेतृत्व के आधार पर मत की अपील करें।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS