देश
एम्स नौकरी प्रकरण: दो युवतियां पानी की टंकी पर चढ़ीं
By Swadesh | Publish Date: 26/4/2019 1:45:40 PM
एम्स नौकरी प्रकरण: दो युवतियां पानी की टंकी पर चढ़ीं

ऋषिकेश। एम्स में कार्यरत आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को एम्स प्रशासन द्वारा नौकरी से निकाले जाने के विरोध में शुक्रवार की सुबह 6:00 बजे दो युवतियां रेलवे स्टेशन स्थित पानी की टंकी के ऊपर चढ़ गईं। उनके समर्थन में डेढ़ दर्जन से अधिक युवतियां पानी की टंकी की सीढ़ियों पर बैठी हैं। मामले को लेकर स्थानीय प्रशासन के एक बार फिर हाथ पांव फूले हुए है। 

 
इससे पहले 15 अप्रैल को दाताराम ममगांई एम्स की इमरजेंसी बिल्डिंग के ऊपर पेट्रोल की शीशी लेकर चढ़ गए थे, जिनके विरुद्ध पुलिस ने शांति भंग किए जाने के आरोप में मुकदमा भी दर्ज किया था ।
 
आउटसोर्सिंग संघर्ष मोर्चा के दीपक रयाल का कहना है कि उनका आंदोलन एम्स प्रशासन की आंखें खोले जाने के लिए इसी प्रकार तब तक जारी रहेगा जब तक एम्स से निकाले गए सभी कर्मचारियों को एम्स प्रशासन बहाल नहीं करेगा। उधर, एम्स के विरुद्ध आउटसोर्सिंग कर्मचारियों का ऋषिकेश व राजमार्ग पर चल रहा आंदोलन 62वें दिन भी जारी है। 
 
मौके पर कंचन कुमारी निवासी आवास विकास कॉलोनी और मनीषा वर्मा पानी की टंकी के ऊपर चढ़ गई है। समर्थन में राधा राणा, मोनिका, प्रतिभा, साधना, ममता, शिवानी, सरिता , पूजा, सुमन वर्मा, शोभा चौहान आदि पानी की टंकी की सीढ़ियों पर बैठी है। आंदोलनकारी महिलाओं का कहना है कि मनीषा वर्मा तथा उसके पति सतीश चंद चंचल को एक साथ नौकरी से बाहर किया गया है। पानी की टंकी पर चढ़ी महिलाओं की सूचना पर पुलिस तथा खुफिया विभाग के कर्मचारी सक्रिय हो गए और वह मौके पर पहुंच गये हैं।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS