देश
कांग्रेस ने 40 साल तक पूर्व सैनिकों के साथ धोखा कियाः नरेन्द्र मोदी
By Swadesh | Publish Date: 8/5/2019 5:47:53 PM
कांग्रेस ने 40 साल तक पूर्व सैनिकों के साथ धोखा कियाः नरेन्द्र मोदी

फतेहबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस ने चार दशक तक पूर्व सैनिकों के साथ धोखा किया है। पूर्व सैनिकों को वन रैंक-वन पेंशन देने के नाम पर सिर्फ राजनीति की।  कांग्रेस ने 2013-14 के आम बजट में पूर्व सैनिकों के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया मगर यह कागजी था। कांग्रेस ने जवानों की पीठ पर छुरा घोंपा। भाजपा सरकार ने 35 हजार करोड़ रुपया सेना के परिवारों में पहुंचाया। उन्होंने सिख दंगों के लिए के लिए गांधी परिवार और कांग्रेस को कसूरवार ठहराया। प्रधानमंत्री यह बात विजय संकल्प रैली में कही। 

 
उन्होंने कहा तमाम आतंकी हमलों का गुनहगार मसूद अजहर आज अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित हो चुका है। इसके पीछे 130 करोड़ लोगों की ताकत है। प्रधानमंत्री ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमार स्वामी की निंदा करते हुए कहा, कुछ लोगों की सोच बहुत छोटी है। वे कहते हैं कि जिनको दो वक्त का खाना नहीं मिलता वे सेना में जाते हैं। प्रधानमंत्री ने जनता से पूछा क्या आपको गुस्सा आया या नही? कांग्रेस हमारी सेना के अध्यक्ष को सरेआम कहती है यह तो गली का गुंडा है। 
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस केंद्र में सरकार बनाने का सपना देख रही है। सपना देखने में कोई हर्ज नहीं है। मगर कांग्रेस ने अपने ढकोसला पत्र में वीर सैनिकों के विशेष अधिकार छीनने की बात कही है। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस पत्थरबाज और आतंकवाद के समर्थकों को खुली छूट देने की हिमायती है। कांग्रेस भारत माता की जय बोलने पर एतराज जताती है। कांग्रेस देशद्रोह कानून हटाने का वादा कर रही है। कांग्रेस चाहती है भारत को गाली देने वालों, तिरंगे का अपमान करने वाले और नक्सलवादियों के समर्थकों को खुली छूट मिले। कांग्रेस का यह सपना कभी पूरा नहीं होगा। 
 
प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, गांधी परिवार ने गली-गली में अपने परिवार के स्मारक बनवाए, लेकिन देश के जवानों के मेमोरियल बनाने की दिशा में कदम नहीं बढ़ाया। 70 साल बाद इस काम को देश के इस चौकीदार ने कर दिखाया। प्रधानमंत्री ने कहा, सिनेमा वाले पुलिस की खराब छवि को पेश करते हैं, जबकि रोजमर्रा की जिंदगी बचाने के लिए पुलिस का जवान 24 घंटे खड़ा रहता है। आजादी से लेकर अब तक 33 हजार पुलिस जवान शहीद हुए हैं। मगर कांग्रेस और महामिलावटियों ने पुलिस को सम्मान नहीं दिया। देश के इस चैकीदार ने पुलिस मेमोरियल बनाने का काम किया। 
 
नरेन्द्र मोदी ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा का नाम लिए बिना निशाना साधा। कहा, हरियाणा की पूर्ववर्ती सरकारों ने किसानों की जमीन पर भ्रष्टाचार की खेती की। इन लोगों को आज तकलीफ हो रही है, क्योंकि देश का चौकीदार उन्हें कोर्ट तक लेकर गया। वे जमानत पर चल रहे हैं। ईडी दफ्तर के चक्कर काटकर उनके जूते घिस चुके हैं। लूटने वालों को जनता को पूरा हिसाब देना होगा। इन लोगों को वे जेल के दरवाजे तक लेकर गए हैं। अगले पांच सालों में ये लोग जेल के भीतर होंगे। 
 
प्रधानमंत्री मोदी ने जननायक जनता पार्टी पर भी तंज कसा। कह इस पार्टी के नेता ने कहा था कि देश के गद्दारों ने छोटूराम को सर की उपाधि दी थी। सर छोटूराम के अपमान को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सर छोटूराम की नीतियों के चलते ही 2022 तक किसानों की आय दोगुनी होगी। उन्होंने कहा कि साल में तीन बार किसानों के खातों में मदद पहुंचेगी। 
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस कर्जमाफी के नाम पर झूठ की नीति अपना रही है। कांग्रेस ने राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में झूठ बोला। अब किसानों को कोर्ट से नोटिस मिल रहे हैं। प्रधानमंत्री ने मंच से कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर की अनदेखी की पीड़ा का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा दलित वर्ग के साथ राजनीति की है। यही कारण है कि दलित वर्ग के प्रदेशाध्यक्ष को आज तक इंसाफ नहीं मिला। समाज को बांटना कांग्रेस की पुरानी आदत है। 
 
मोदी ने कहा, 1984 में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब सहित कई हिस्सों में गांधी परिवार और उनके दरबारियों के इशारे पर सिखों को मारा गया। कांग्रेस ने सिखों को इंसाफ नहीं दिया। इस चौकीदार ने सिखों के गुनहगारों को सजा दिलाई। दुर्भाग्य यह है कि कांग्रेस सिख दंगों के गुनहगारों को इनाम दे रही है। 
 
प्रधानमंत्री बोले, गुरु की धरती करतारपुर साहिब आज भारत में होती, लेकिन कांग्रेस की एक गलती से यह पाकिस्तान में चली गई। कांग्रेस के अन्याय को सुधारना मुश्किल है, लेकिन भाजपा सरकार में करतारपुर साहिब कारिडोर विकसित कर रही है। उन्होंने हरियाणा में पारदर्शिता के आधार पर भर्ती करने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल की तारीफ की। 
 
उन्होंने जनता से आह्वान किया कि सभी 10 की 10 सीटों पर कमल खिलाना है। कमल का एक-एक वोट मोदी को जाएगा। इस जीत के बाद उन्हें जनता की सेवा में खुलकर काम करने का अवसर मिलेगा। 
 
इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला ने वीरों की भूमि व बांगड़ की धरती में प्रधानमंत्री का स्वागत किया। बराला ने कहा यहां के लोगों ने 2013 में मोदी का सिर्फ नाम सुना था। उस वक्त मोदी ने रेवाड़ी  चुनाव अभियान की शुरुआत की थी तब उनकी झोली में हरियाणा की 10 में से 7 सीटें गई थीं। अब प्रधानमंत्री मोदी के नाम के साथ काम को भी प्रदेशवासियों ने देख लिया है। अबकी बार उनकी झोली में सभी दस सीटे जाएंगी। 
 
हिसार से भाजपा उम्मीदवार बृजेन्द्र सिंह ने कहा कि आज गांव, शहर और हर गली-मोहल्ले में एक ही आवाज आ रही है कि नरेन्द्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाना है। मोदी के नेतृत्व में राष्ट्र को जो गौरव की अनुभूति हुई है, वह 70 साल में कभी नही हुई। भारत की सेनाओं ने 1971 के बाद पहली बार बॉर्डर क्रॉस करके पाकिस्तान को करारा जवाब दिया। सिरसा से पार्टी उम्मीदवार सुनीता दुग्गल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश की दशा और दिशा बदली है। केंद्र और प्रदेश सरकार ने ऐसी योजनाएं लागू की है, जिससे आम आदमी, मजदूर, किसान का जीव यापन सरल होने के साथ साथ शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार की पुरी सुविधाएं मुहैया हो रही है।
 
केंद्रीय इस्पात मंत्री वीरेंद्र सिंह ने कहा नरेन्द्र मोदी के पुनः प्रधानमंत्री बनने के बाद पहले से कई गुना ज्यादा गति से  देश का विकास होगा। प्रधानमंत्री के साथ मंच पर शिरोमणि अकाली दल (बादल) के प्रधान एवं पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल भी नजर आए। उन्होंने कहा कि अगर वोट डालते समय सही फैसला किया गया तो पांच साल तक देश विकास और तरक्की की नई राह पकड़ेगा।उन्होंने कांग्रेस राज में स्वर्ण मंदिर पर हुए हमले और 1984 में सिखों के कत्लेआम को शर्मनाक कहा। बादल ने कहा,  मोदी के सत्ता में आने के बाद ही सज्जन कुमार जैसे कातिल जेल में है।  
 
विजय संकल्प रैली में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, भाजपा नेता वीरकुमार यादव, डीपी वत्स, राजबीर गंगवा, श्रीनिवास गोयल,  विधायक डॉ. कमल गुप्ता व प्रेमलता, हिसार के मेयर गौतम सरदाना, फतेहाबाद के जिलाध्यक्ष वेद फुलां और सिरसा के जिलाध्यक्ष यतिन्द्र सिंह भी उपस्थित थे। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS