देश
आईएनएस विराट में सैर के आरोप पर चिदंबरम ने किया बचाव
By Swadesh | Publish Date: 10/5/2019 6:17:47 PM
आईएनएस विराट में सैर के आरोप पर चिदंबरम ने किया बचाव

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने आईएनएस विराट से सैर के विवाद पर शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का बचाव किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आरोप लगाया था कि राजीव सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक टैक्सी की तरह किया करते थे। चिदंबरम ने कहा है कि नौसेना के शीर्ष अधिकारी कहते हैं कि राजीव गांधी ने आईएनएस विराट का इस्तेमाल केवल आधिकारिक यात्राओं में किया है।

पी. चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाया है कि वह तथ्यों की जांच के बिना ही झूठ बोलते हैं। एक ट्वीट श्रृंखला में चिदंबरम ने कहा, ‘मैं उत्सुक हूं यह जानने के लिए कि प्रधानमंत्री को ये झूठ कौन बताता है? प्रधानमंत्री तथ्यों की जांच किए बिना झूठ क्यों बोलते हैं?’
 
चिदंबरम ने कहा कि नरेन्द्र मोदी का एक और झूठ पकड़ा गया। नौसेना के शीर्ष अधिकारियों ने कहा कि राजीव गांधी ने आईएनएस विराट का उपयोग आधिकारिक यात्रा पर ही किया था।वहीं इस मुद्दे को कांग्रेस के दौरान हुई सीमा पार कार्रवाई से जोड़ते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सही जानकारी के लिए सही अधिकारियों से बात नहीं करते हैं। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री को यूपीए सरकार के दौरान सीमा पार कार्रवाई के सबूत नहीं मिले, तो इसका मतलब है कि जानकारी उनसे छुपाई जा रही है। आप उन जनरल से बात क्यों नहीं करते जिन्होंने कहा ‘यह पहली बार नहीं है और यह आख़िरी बार भी नहीं है’?’
 
इसी बीच एक अंग्रेजी दैनिक ने अपने अखबार की राजीव गांधी के समय की खबरों को जोड़कर एक खबर प्रकाशित की है। इसमें जिक्र किया गया है कि 1987 और 1988 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पहले अंडमान और अगले साल लक्षद्वीप के द्वीपों पर साल के अंत में छुट्टियां मनाने गए थे, जहां उनके परिवार वाले भी उनके साथ थे।
 
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने एक अलग बयान में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का आईएनएस विराट में छुट्टियां मनाना सही था। इसके अलावा आनंद शर्मा ने प्रधानमंत्री मोदी को लेकर कहा कि जिनके पास परिवार ही नहीं है, वह छुट्टी मनाने किसके साथ जाएंगे।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS