खेल
जयपुर पिंक पैंथर्स ने गुजरात फ़ॉर्च्यून जाइंट्स को 22-19 से हराया
By Swadesh | Publish Date: 17/8/2019 12:22:15 PM
जयपुर पिंक पैंथर्स ने गुजरात फ़ॉर्च्यून जाइंट्स को 22-19 से हराया

अहमदाबाद। वीवो प्रो-कबड्डी लीग के सातवें सत्र के 44वें मैच में जयपुर पिंक पैंथर्स ने गुजरात फ़ॉर्च्यून जाइंट्स को 22-19 से शिकस्त दी। गुजरात की ये लगातार छठी हार है और अपने घर में सभी मैच हारने वाली गुजरात इस सत्र की पहली टीम बन गई है। इस जीत के हीरो रहे जयपुर के कप्तान दीपक हूडा जिन्होंने कमाल का ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए 7 प्वाइंट्स (5 रेड और 2 टैकल) हासिल किए। दीपक का बख़ूबी साथ निभाया 3 टैकल प्वाइंट्स के साथ विशाल ने जबकि गुजरात की ओर से पंकज ने हाई फ़ाइव हासिल करते हुए कुल 6 टैकल प्वाइंट्स अपने नाम किया। जबकि सचिन इस मैच में कुछ ख़ास नहीं कर सके और उन्हें सिर्फ़ 3 अंक मिले।

शुक्रवार रात खेले गए मैच की शुरुआत में गुजरात फ़ॉर्च्यून जाइंट्स ने अपने इरादे साफ़ कर दिए थे और 2-0 से बढ़त बना ली थी। हालांकि इसके बाद जयपुर पिंक पैंथर्स ने वापसी करते हुए मैच में संघर्ष जारी रखा, जयपुर की तरफ़ से अच्छा डिफ़ेंस देखने को मिल रहा था और गुजरात भी कहीं से भी जयपुर को मौक़ा देने की फ़िराक़ में नहीं थे। हालांकि हाफ़ टाइम तक जयपुर पिंक पैंथर्स को 2 अंकों की मामूली बढ़त हासिल थी और स्कोर 9-7 से जयपुर के पक्ष में था। हाफ़ टाइम तक ये कहना मुश्किल था कि मैच किसकी तरफ़ झुक रहा है। मैच भले ही लो स्कोरिंग जा रहा था लेकिन रोमांच अपने चरम पर था। इस दौरान जयपुर पिंक पैंथर्स के डिफ़ेंडर संदीप ढुल ने प्रो कबड्डी इतिहास में अपना 300 टैकल प्वाइंट्स पूरा कर लिया था।
 
दूसरे हाफ़ की शुरुआत में मेज़बान टीम गुजरात को एक बार फिर पंकज ने वापसी दिलाई और जयपुर पर बढ़त बना ली थी। लेकिन जयपुर ने हिम्मत नहीं हारी और जी बी मोरे को अहम मौक़े पर टैकल करते हुए अपनी टीम को बढ़त दिला दी थी। लेकिन मैच के आख़िरी दो मिनट में दीपक हूडा को डू और डाई रेड में रोहित गुलिया ने एंकल होल्ड करते हुए गुजरात को एक अंक दिला दिया था लेकिन हूडा ने बोनस अंक लेते हुए अभी भी जयपुर को एक अंक की बढ़त हासिल थी। मैच में अब दो मिनट से भी कम का समय था और तभी जी बी मोरे को युवा पवन ने टैकल करते हुए जयपुर को एक और अंक दिलाते हुए गुजरात से दो अंक आगे ले आए थे।
 
इस जीत के साथ ही जयपुर पिंक पैंथर्स अब 7 मैचों में 30 अंकों के साथ नंबर-1 पर आ गई है जबकि एक अंक लेने के बाद गुजरात को कोई ख़ास फ़र्क नहीं पड़ा और वह अभी भी 20 अंकों के साथ सातवें पायदान पर ही हैं।
 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS