खेल
आईएसएल-5 : पहले चरण की जीत के दम पर एफसी गोवा फाइनल में
By Swadesh | Publish Date: 13/3/2019 2:42:43 PM
आईएसएल-5 : पहले चरण की जीत के दम पर एफसी गोवा फाइनल में

गोवा। एफसी गोवा को हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल के दूसरे चरण के मैच में मुंबई सिटी एफसी ने 1-0 से हरा दिया। बावजूद इसके गोवा पहले चरण की जीत के दम पर फाइनल में जगह बना पाने में सफल रही है। 

मंगलवार देर रात गोवा ने मुंबई में खेले गए पहले चरण के मैच में 5-1 से जीत हासिल की थी। इसी कारण वह दो चरण की समाप्ति के बाद 5-2 के एग्रीगेट स्कोर के साथ फाइनल में पहुंची। फाइनल में उसका सामना रविवार को बेंगलुरू एफसी से होगा। बेंगलुरू ने नार्थईस्ट को हरा लगातार दूसरी बार फाइनल में प्रवेश किया है। 
 
मुंबई जानती थी कि पहले चरण में मिली 1-5 से हार के बाद उसके फाइनल में जाने की संभावना बेहद कम है। लेकिन वह कोशिश में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती थी। इसलिए वह सिर्फ गोल करने के इरादे से उतरी थी। छठे मिनट में उसे सफलता भी मिल गई। 
राफेल बास्तोस ने मुंबई को 1-0 से आगे कर दिया। गोवा के अहमद झाओ ने सेंटर में गलत पासिंग की और इस बीच गेंद आर्नाल्ड इसोको के पास आ गई जिन्होंने गोलपोस्ट के सामने खड़े राफेल को गेंद दी। राफेल ने बेहद आसानी से गेंद को अपने पैर के इशारे से नेट में डाल मुंबई को एक गोल की बढ़त दिला दी। 
 
गोवा चिंतित तो नहीं थी, लेकिन उसकी तरफ से प्रयास ज्यादा हो नहीं रहे थे। 17वें मिनट में उसे कॉर्नर मिला जिस पर गोल नहीं हो सका। पांच मिनट बाद नवीन कुमार ने गोवा को दूसरा गोल खाने से बचा लिया। राफेल ने मोदू सोगू को पास दिया। सोगू के प्रयास को नवीन ने शानदार तरीके से रोक मुंबई को निराश किया। 
 
गोवा का डिफेंस हालांकि मुंबई पर ज्यादा दबाव नहीं बना पा रहा था। इस बीच 34वें मिनट में गोवा के अहमद को मैच का पहला पीला कार्ड मिला। इसी मिनट में राफेल ने फ्री किक पर शानदार शॉट से नवीन की परीक्षा ली जिसमें गोवा के गोलकीपर सफल रहे। 
अहमद को पीला कार्ड मिलने के बाद 39वें मिनट में गोवा के कोच ने उन्हें बाहर बुला ईदू बेदिया को मैदान पर भेजा। पहले हाफ के अंत तक हालांकि गोवा बराबरी नहीं कर सकी।
 
पहले हाफ में पूरी तरह से शांत रहे गोवा के स्टार फेरान कोरोमिनास ने दूसरे हाफ में आते ही अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। उन्होंने बॉक्स के बाहर से एक शानदार शॉट लिया जिसे मुंबई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने रोक लिया। कोरोमिनास ने 60वें मिनट में भी जोयनेर लारोंको को छकाते हुए गोल करने का अच्छा प्रयास किया, लेकिन जोयनेर ने उन्हें गिरा दिया। 
 
इसके अगले मिनट गोवा को कॉर्नर मिला जिसे ब्रैंडन फर्नाडेज ने लिया। इस कॉर्नर में हालांकि ज्यादा दम नहीं था। इसलिए मुंबई ने इसे आसानी से क्लीयर कर दिया। 65वें मिनट में गोवा ने फर्नांडेज को बाहर बुलाकर मनवीर सिंह को अंदर भेजा। फर्नांडेज को चोट के कारण बाहर जाना पड़ा। 
 
मुंबई ने भी 70वें मिनट में बदलाव कर रायेनिएर फर्नांडेज को बाहर भेज मोहम्मद रफीक को अंदर उतारा। वक्त बीतता जा रहा था और मुंबई का चमत्कारिक जीत हासिल करने का सपना भी टूटता जा रहा था। मुंबई इस मैच में तो 1-0 से जीत दर्ज करने में सफल रही लेकिन पहले चरण की करारी हार ने उसे फाइनल में जाने से रोक दिया। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS