खेल
टोकियो ओलिंपिक कार्यक्रम घोषित: रिकार्ड 33 खेलों में होंगी 339 स्पर्धाएं
By Swadesh | Publish Date: 17/4/2019 10:35:44 AM
टोकियो ओलिंपिक कार्यक्रम घोषित: रिकार्ड 33 खेलों में होंगी 339 स्पर्धाएं

लुसाने। टोकियो में अगले वर्ष 24 जुलाई से 9 अगस्त तक होने वाले द्वितीय ओलिंपिक खेलों-2020 के लिए मंगलवार को रिकार्ड 33 विभिन्न खेलों के लिए 339 प्रतिस्पर्धाओं का कार्यक्रम घोषित कर दिया गया है। 

 
इन ग्रीष्मकालीन खेलों के पहले ही दिन 10 मीटर एयर राइफ़ल स्पर्धा के साथ 11 स्वर्ण पदक दांव पर होंगे। हालांकि 24 जुलाई को उद्घाटन समारोह से दो दिन पहले पहली बार शामिल साफ़्ट बाल और महिला फ़ुटबाल मैचों की प्रारंभिक स्पर्धा शुरू हो जाएगी। उसी दिन नौकायन तथा तीरंदाज़ी की स्पर्धाएं भी शुरू होंगी।
 
पहले दिन दिए जाने वाले 11 स्वर्ण पदकों में से तीरंदाज़ी में 6 स्वर्ण पदक दांव पर होंगे तो उसी दिन साइकिलिंग (रोड रेस), जूडो, ताइक्वांडो और भारोत्तोलन की स्पर्धाएं भी शुरू हो जाएंगी। भारत की परीक्षा पहले ही दिन तीरंदाज़ी की स्पर्धा से शुरू होगी। समापन समारोह रविवार 9 अगस्त को होगा, जब पुरुष वर्ग की जुझारू मैराथन दौड़ के साथ वाटर पोलो के फ़ाइनल विशेष रूप से दर्शनीय होंगे। 
 
टोकियो में भारी गरमी के मद्देनजर मैराथन दौड़ सुबह छह बजे शुरू किए जाने का कार्यक्रम है। इस एक पखवाड़े की ओलिंपिक स्पर्धा में 01 अगस्त को सुपर शनिवार को 21 स्पर्धाओं, दो अगस्त को गोल्डन रविवार को 26 और समापन के पहले दिन अर्थात 8 अगस्त को 30 स्पर्धाओं के स्वर्ण पदक निर्धारित होंगे। टोकियो के स्टेडियम दर्शकों से खचाखच भरे होंगे।
 
गोल्डन रविवार के दिन महिला मैराथन, पुरुषों की 100 मीटर फ़र्राटा दौड़, महिला जिमनास्टिक स्पर्धाएं और टेनिस फाइनल मुक़ाबले होंगे। 2 अगस्त को 171 मेडल के लिए स्पर्धाएं निर्धारित की गई हैं। इनमें पहली बार शामिल कराटे के मुक़ाबले होंगे। 
 
एटलेटिक स्पर्धाएं नए ओलिंपिक स्टेडियम में 31 जुलाई से शुरू होंगी। इस बार ओलिंपिक खेलों में पहली बार 6 अगस्त को डेकाथलन और हेपटाथलन की स्पर्धाएं एकसाथ होंगी और उनके परिणाम भी एक साथ दिए जाएंगे। 
 
इन खेलों की एक और मनोरम स्पर्धा पुरुषों की 4x100 मीटर रिले दौड़ 7 अगस्त की शाम होगी। समापन से पहले दिन सुपर शनिवार को 30 स्पर्धाओं के फ़ाइनल में पुरुष बास्केटबाल, पुरुष फ़ुटबाल और बेसबाल आकर्षण के केंद्र होंगे। हालांकि इस दिन महिलाओं की फ़ाइनल स्पर्धाओं में जिमनास्टिक की आल राउंड रिदमेटिक आकर्षण लिए हुए होंगी।
 
टोकियो पहला एशियाई नगर है, जिसने 1964 के ओलंपिक खेलों की मेज़बानी की थी। हालांकि जापान के सापोरो में 1972 और नागानो में 1998 में शीतकालीन ओलिंपिक खेल हो चुके हैं। इन खेलों की आधी टिकटें बिक चुकी हैं। 
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS