खेल
आईपीएल: मुंबई ने 46 रनों से चेन्नई को हराया
By Swadesh | Publish Date: 27/4/2019 10:29:36 AM
आईपीएल: मुंबई ने 46 रनों से चेन्नई को हराया

चेन्नई। आईपीएल सीजन 12 के 44वें मुकाबले में शुक्रवार को मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को 46 रनों से हरा दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवाकर 155 रन बनाए और चेन्नई सुपर किंग्स को जीत के लिए 156 रनों का लक्ष्य दिया। जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स 17.4 ओवर में 109 रन पर ऑलआउट हो गई। 

 
चेन्नई की यह 12 मैचों में चौथी हार है लेकिन वह 16 अंक लेकर पहले ही प्लेऑफ में पहुंच चुकी है। मुंबई की 11 मैचों में सातवीं जीत है और वह 14 अंक के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। चेन्नई की चेपॉक पर यह सात जीत के बाद पहली हार है, उसने 22 अप्रैल 2013 के बाद से अपने घरेलू मैदान पर दूसरा मैच गंवाया।
 
लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई के बल्लेबाज शेन वॉटसन (8) पहले ओवर में दो चौके मारने के बाद पांचवीं गेंद पर लसिथ मलिंगा का शिकार बने। इस मैच में चेन्नई की कप्तानी कर रहे सुरेश रैना (2) को हार्दिक पंड्या ने अपना शिकार बनाया। हार्दिक के भाई क्रुणाल पंड्या ने अंबति रायडू को खाता नहीं खोलने दिया। 34 के कुल स्कोर तक चेन्नई ने अपने तीन अहम विकेट खो दिए थे।
इस सीजन में अपना पहला मैच खेल रहे मुरली विजय (38) हालांकि दूसरे छोर पर थे। मध्य क्रम में उन्हें केदार जाधव (6) से उम्मीदें थीं, लेकिन क्रुणाल की एक गेंद जाधव के स्टंप ले उड़ी। ध्रूव शौरे (5) ने विजय का साथ देने की कोशिश की लेकिन अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे अनुकूल रॉय की गेंद को मारने के प्रयास में वह सीमा रेखा के पास राहुल चहर के हाथों लपके गए।
 
विजय अच्छा खेल रहे थे और लग रहा था कि वह पचास रनों के पार जल्दी पहुंचेंगे लेकिन जसप्रीत बुमराह ने उन्हें अर्धशतक नहीं लगाने दिया। विजय ने अपनी पारी में 35 गेंदों का सामना किया और तीन चौके और एक छक्का लगाया। 66 रनों पर छह विकेट गिर जाने के बाद चेन्नई की जीत की उम्मीदें खत्म हो रही थीं।
 
ड्वेन ब्रावो (20) ने कुछ अच्छे शॉट खेल मेजबान टीम की जीत की उम्मीदों को पूरी तरह से खत्म नहीं होने दिया, लेकिन मलिंगा ने 99 के कुल स्कोर पर ब्रावो को आउट कर मुंबई को सातवीं सफलता दिलाई। ब्रावो जब आउट हुए जब चेन्नई को 24 गेंदों पर 57 रनों की दरकार थी। यहां से चेन्नई की हार तय लग रही थी। दीपक चहर (0), हरभजन सिंह (1) और मिशेल सेंटनर (22) के विकेट गिरने के साथ ही चेन्नई को हार मिली। 
 
चेन्नई को अपने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कमी निश्चित तौर पर खली। मध्यक्रम में टीम के पास ऐसा कोई बल्लेबाज नहीं था जो टीम को संभाल सके। यह चेन्नई का अपने घर में आईपीएल का सबसे कम स्कोर भी है। यह इस सीजन में इन दोनों टीमों का दूसरा मैच था और दोनों में मुंबई जीत हासिल करने में सफल रही है।

पहली पारी
रोहित शर्मा ने आईपीएल के मौजूदा सीजन में अपना पहला अर्धशतक जमाया लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स ने इसके बावजूद अपनी कसी हुई गेंदबाजी के दम पर मुंबई इंडियंस को चार विकेट पर 155 रन ही बनाने दिए। रोहित ने 48 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से 67 रन बनाए और इस बीच इविन लुईस (32) के साथ तीसरे विकेट के लिए 75 रन जोड़े लेकिन चेन्नई के गेंदबाजों विशेषकर स्पिनरों ने बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया।
 
बाएं हाथ के स्पिनर मिशेल सेंटनर मुंबई के सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने चार ओवर में 13 रन देकर दो विकेट लिए। इमरान ताहिर और दीपक चाहर ने एक-एक विकेट लिया। महेंद्र सिंह धोनी बुखार के कारण दूसरे मैच में नहीं खेल पाए जबकि रवींद्र जडेजा 2012 में चेन्नई से जुड़ने के बाद पहली बार मैदान पर नहीं उतरे। स्वाभाविक था कि सुरेश रैना की अगुवाई में टीम कुछ नए स्वरूप के साथ खेल रही थी।
 
रैना ने चेन्नई के टॉस जीतने के क्रम को बरकरार रखा और दीपक चहर ने तीसरे ओवर में क्विंटन डि कॉक (15) को विकेटकीपर अंबति रायडू के हाथों कैच कराकर मुंबई को शुरू में ही करारा झटका दिया, लेकिन इसके बाद चेन्नई को अगले विकेट के लिए 13वें ओवर तक इंतजार करना पड़ा।
 
चहर के अगले ओवर में तीन चौके लगे लेकिन तब भी मुंबई पावरप्ले तक 45 रन तक ही पहुंच पाया। इसकी वजह हरभजन सिंह (चार ओवर में 23 रन) थे जिन्होंने पावरप्ले में किए गए तीन ओवर में केवल नौ रन दिए लेकिन उनके आखिरी ओवर में रोहित ने डीप मिडविकेट और लांग ऑन पर छक्के जड़कर उनका गेंदबाजी विश्लेषण आकर्षक नहीं रहने दिया।
 
रोहित ने 13वें ओवर में 37 गेंदों का सामना करके इस सत्र का पहला अर्धशतक पूरा किया जिससे मुंबई भी तिहरे अंक में पहुंचा लेकिन इससे पहले सैंटनर के इस ओवर में लुईस ने सीमा रेखा पर कैच थमा दिया था। उनका स्थान लेने के लिए उतरे क्रुणाल पंड्या (01) ने भी इमरान ताहिर पर गलत टाइमिंग से शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया।
 
पंद्रह ओवर तक स्कोर 105 रन तक ही पहुंच पाया। इसके बाद रोहित ने ताहिर पर दो चौके और एक छक्का लगाया लेकिन सेंटनर ने अगले ओवर में उन्हें पवेलियन भेज दिया। इसके बाद हार्दिक पंड्या (नाबाद 23) और कीरोन पोलार्ड (नाबाद 13) क्रीज पर थे लेकिन अगले दो ओवर में केवल सात रन बने। आखिरी दो ओवर में 27 रन बनने से टीम 150 रन के पार पहुंच पाई। 
 
मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपर किंग्स को आईपीएल सीजन 12 के 44वें मुकाबले में 46 रनों से मात दी है। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवाकर 155 रन बनाए और चेन्नई सुपर किंग्स को जीत के लिए 156 रनों का लक्ष्य दिया। जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स 17.4 ओवर में 109 रन पर ऑलआउट हो गई।
 
प्लेइंग इलेवन:
मुंबई: क्विंटन डि कॉक, इविन लुईस, रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, कीरोन पोलार्ड, क्रुणाल पंड्या, अनुकूल रॉय, राहुल चहर, लसिथ मलिंगा, जसप्रीत बुमराह।
 
चेन्नई: शेन वॉटसन, मुरली विजय, सुरेश रैना, अंबति रायडू, ध्रुव शोरे, केदार जाधव, ड्वेन ब्रावो, मिशेल सेंटनर, दीपक चहर, हरभजन सिंह, इमरान ताहिर।
COPYRIGHT @ 2018 SWADESH. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS