Top
undefined

गुना के इंजीनियर की नाइजीरिया में कोरोना से मौत, परिजनों ने यहीं किए ऑनलाइन अंतिम दर्शन

गुना के इंजीनियर की नाइजीरिया में कोरोना से मौत, परिजनों ने यहीं किए ऑनलाइन अंतिम दर्शन
X

गुना. नाइजीरिया में 22 अप्रैल को कोरोना संक्रमण से एनएफएल के पूर्व मैनेजर और इंजीनियर सत्येंद्र शर्मा की मौत हो गई थी। शर्मा मध्य प्रदेश के गुना के रहने वाले थे। लॉकडाउन के चलते उनकी देह को भारत लाने की अनुमति नहीं मिली। शुक्रवार को उनका नाइजीरिया में ही अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान भारत में मौजूद उनके परिजन और रिश्तेदारों ने ऑनलाइन अंतिम दर्शन किए।

लॉकडाउन के कारण शर्मा के सभी रिश्तेदार भी एक जगह पर एकत्रित नहीं हो पाए। उनकी मां और एक भाई गुना में हैं। जबकि पत्नी भोपाल और बेटी देहरादून में फंसी हैं। उनकी दो बहनें विदिशा और दो भाई मुंबई में थे। सभी ने उनके आखिरी दर्शन अलग-अलग जगहों से ऑनलाइन किए। मानवीय संवेदना का इससे बड़ा संकट क्या होगा कि कोई भी एक दूसरे को सांत्वना और दिलासा देने के लिए भौतिक रूप से मौजूद नहीं रह पाया। नाईजीरिया में उनके अंतिम संस्कार की पूरी क्रिया विधि वहीं के एक शख्स ने पूरी की। इस दौरान भारत से उन्हें बताया जाता रहा कि उन्हें क्या-क्या करना है। शर्मा की अस्थियों के लिए भी परिजन को लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। जब तक दोनों देशों में लॉकडाउन में ढील नहीं होती है, तब तक यह संभव नहीं हो पाएगा।

एक साल पहले नाइजीरिया की उर्वरक कंपनी ज्वाइन की थी

यह संयोग ही है कि शर्मा ने ठीक एक साल पहले अप्रैल में ही नाइजीरिया की दांगोटे इंडस्ट्रीज प्रा. लि. ज्वाइन की थी। इससे पहले वे विजयपुर स्थित एनएफएल के प्लांट में इंजीनियर थे। 16 अप्रैल 2020 को उन्हें बुखार होने के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शुरूआती जांच में उनमें मलेरिया की पुष्टि हुई थी। अगले दो दिन में जब दोबारा जांच की गई तो पता चला कि वे कोरोना से संक्रमित हो गए। 22 अप्रैल को उनकी हालत बहुत ज्यादा बिगड़ गई और उनका निधन हो गया।

Next Story
Share it
Top