Top
undefined

करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी का आरोपी गुटखा कारोबारी किशोर वाधवानी जेल भेजा गया

करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी का आरोपी गुटखा कारोबारी किशोर वाधवानी जेल भेजा गया
X

इंदौर. करोड़ों रुपए की टैक्स चोरी के आरोपी गुटखा कारोबारी किशोर वाधवानी को कोर्ट ने जेल भेजने के आदेश दिए हैं। डीजीजीआई ने पूछताछ पूरी होने के बाद सोमवार को उसे कोर्ट में पेश किया था। डीजीजीआई द्वारा आरोपी की और रिमांड नहीं मांगे जाने पर कोर्ट ने उसे जेल भेजने के आदेश दिए। आरोपी वाधवानी को सेंट्रल जेल भेजा गया है।

पान मसाले में 233 करोड़ की टैक्स चोरी मिलने के बाद अब डीजीजीआई द्वारा सोमवार को सिगरेट बनाने के मामले में भी 105 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी होने का खुलासा किया है।आरोपी द्वारा अब तक कुल 338 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी सामने आ चुकी है।

सोमवार को डीजीजीआई ने खुलासा किया कि वाधवानी की सांवेर रोड स्थित फैक्ट्री में अप्रैल 2019 से मई 2020 तक 105 करोड़ रुपए की जीएसटी चोरी की गई है। टीम ने कुछ दिनों पहले यहां छापामार कार्रवाई की थी। जांच एजेंसियों के अनुसार, यहां से 5000 बॉक्स मिले थे। एक बॉक्स में 12000 सिगरेट रहती थी, इसकी कीमत 27 करोड़ रुपए आंकी गई।

अलग से बनाई टीम

डीजीजीआई ने मामले की गंभीरता को देखते हुए छानबीन के लिए अलग से अफसरों की टीम लगा दी है। यह टीम टैक्स चोरी से आई राशि को जिन कंपनियों में लगाया, उनकी जांच कर रही है। अब तक करीब 30 कंपनियां जांच के दायरे में आई हैं, जिसमें से कुछ डमी हैं। कुछ रियल एस्टेट सेक्टर और होटल इंडस्ट्री की हैं। डीजीजीआई द्वारा चलाए गए ऑपरेशन 'कर्क' के तहत मुंबई की एक होटल से वाधवानी को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में संजय माटा, विजय नायर, अशोक डागा और अमित बोथरा पहले गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

पाकिस्तान भेजा पैसा

कोर्ट में डीजीजीआई ने यह खुलासा किया था कि वाधवानी के पास दुबई का रेसीडेंस वीजा (वहां रहने का कोई कारण हो तो यह वीजा मिलता) है। टैक्स चोरी की राशि दुबई के होटल में लगाई गई। इसके साथ पाकिस्तानी नागरिक संजय माटा के भी लिंक है। ऐसे में आशंका है कि टैक्स चोरी का पैसा पाकिस्तान भी भेजा गया।

Next Story
Share it
Top