Top
undefined

निवेशक फार्मा सेक्टर के इन शेयरों पर टूट पड़े हैं

निवेशक फार्मा सेक्टर के इन शेयरों पर टूट पड़े हैं
X

नई दिल्ली. दुनियाभर में एक करोड़ से अधिक लोग कोरोना महामारी की चपेट में आ चुके हैं और अभी यह थमने का नाम नहीं ले रही है। दुनिया की कई कंपनियां वैक्सीन बनाने के काम में जुटी हैं और देर सबेर उनकी वैक्सीन बाजार में आ जाएगी। पूरी दुनिया को कोरोना से बचाने के लिए अरबों डोज वैक्सीन की जरूरत होगी। साथ ही इसके लिए कई दवाएं भी बाजार में आई हैं। यही वजह है कि दवा कंपनियों को लेकर निवेशकों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है।

केआर चोकसी इनवेस्टमेंट मैनेजर्स के एमडी देवेन आर चोकसी का कहना है कि फार्मा सेक्टर में सिपला और ग्लेनमार्क को लेकर निवेशकों में जबरदस्त उत्साह है। उनका कहना है कि फार्मा सेक्टर की हर कंपनी की अपनी अलग रणनीति है। सिपला, ग्लेनमार्क और सन फार्मा स्पेशिएलिटी जेनेरिक प्रॉडक्ट पोर्टफोलियो की तरफ बढ़ रहे हैं। इससे निवेशकों की यह धारणा मजबूत हुई है कि देरसबेर उन्हें इन कंपनियों के शेयरों में बेहतर मुनाफा मिलेगा।

रिलायंस जैसी कंपनियों पर लगाएं दाव

उन्होंने कहा कि विदेशी फंडों के नकदी झोकने और स्थानीय म्यूचुअल फंडों तथा एसपीआई के सपोर्ट से बाजार ने मार्च के बाद कई बार अच्छा प्रदर्शन किया है। मार्केट में आई नकदी के कारण यह रिकवरी हुई है। जहां तक निफ्टी का सवाल है तो वह लगातार 9400 से 10400 की रेंज में बना हुआ है। अगर यह इस रेंज से ऊपर जाता है तो कुछ बड़े स्टॉक भागीदारी कर सकते हैं और अगर ऐसा होता है तो बाजार में लगातार बढ़त दर्ज हो सकती है। अन्यथा यह कमोबेश इसी रेंज में रहेगा। व्यक्तिगत स्तर पर कई स्टॉक में उतार चढ़ाव देखने को मिल सकता है।

चोकसी ने कहा कि बाजार की स्थिति को देखते हुए निवेशकों को रिलायंस जैसी मजबूत कंपनियों पर दाव लगाना चाहिए। इसके अलावा बीमा और एनबीएफसी क्षेत्र की कुछ कंपनियों के स्टॉक पर पैसा लगाया जा सकता है। साथ निजी बैंकों के शेयर भी फायदा दिला सकता हैं। बाजार में उतारचढ़ाव को देखते हुए कम कीमत पर शेयरों को खरीदने का मौका है। बाजार चढ़ने पर मुनाफावसूली की जा सकती है।

Next Story
Share it
Top