Top
undefined

भारत-चीन तनाव के चलते चीनी मोबाइल कंपनियों का प्रोडक्शन घटा

भारत-चीन तनाव के चलते चीनी मोबाइल कंपनियों का प्रोडक्शन घटा
X

नई दिल्ली. शाओमी, ओपो, वीवो और रीयलमी जैसी चीनी कंपनियों के हजारों करोड़ रुपयों के स्मार्टफोन का प्रोडक्शन इस समय काफी प्रभावित हुआ है। इसकी वजह ये है कि चीन से आने वाले इनके कॉम्पोनेंट नहीं पहुंच पा रहे हैं, क्योंकि बंदरगाहों पर इस समय सख्त चेकिंग हो रही है और सप्लाई घट गई है।

वहीं दूसरी ओर कोरोना सेफ्टी प्रोटोकॉल्स की वजह से लेबर की कमी ने स्थिति को और खराब कर दिया है। इसकी वजह से इन स्मार्टफोन का प्रोडक्शन कोरोना से पहले की तुलना में करीब 30-40 फीसदी तक घट गया है। इंडस्ट्री के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार इस समय चीनी कंपनियां मांग को पूरा नहीं कर पा रही हैं।

कंपनियां अथॉरिटीज से बात कर रही हैं और कोशिश हो रही है कि बंदरगाहों पर फंसा सामान वहां से निकल कर कंपनियों तक पहुंच सके। एक टॉप चीनी कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार इन दिनों उनका अधिकतर समय सामान की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए इधर-उधर घूमने में ही निकल रहा है और वह कंपनी ऑपरेशन पर ध्यान नहीं दे पा रहे हैं।

एक अन्य चीनी कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बंदरगाहों पर फंसा सामान धीरे-धीरे निकल रहा है, लेकिन स्थिति अभी भी चिंताजनक ही है। अधिकारी का कहना है कि आज की इस परिस्थिति में बिजनेस करना बहुत ही मुश्किल है, जब हमें ये भी नहीं पता कि आने वाले दिनों में सप्लाई मिल पाएगी या नहीं। ऐसे में हम कैसे अपने मॉडल तैयार करें और कैसे सेल्स प्लानिंग करें?

महीने के अंत तक 80 फीसदी पहुंच जाएगा प्रोडक्शन

इसी बीच इंडियन सेल्युलर एंड इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन के चेयरमैन पंकज मोहिंद्रू ने कहा कि अगर कंपोनेंट सप्लाई की बात करें तो चीजें अब सामान्य होने लगी हैं। उन्हें उम्मीद है कि इस महीने के अंत तक प्रोडक्शन 80 फीसदी तक पहुंच जाएगा। उन्होंने कहा कि कोशिश की जा रही है कि सारे कंपोनेंट का ईकोसिस्टम देश में ही तैयार हो सके, ताकि आयात पर निर्भरता घटे।

बाकी देशों की कंपनियों पर भी पड़ा असर

तमाम प्रतिबंधों की वजह से ना सिर्फ चीनी मोबाइल फोन पर असर पड़ा है, बल्कि अन्य देशों की मोबाइल कंपनियों के प्रोडक्शन पर भी असर पड़ा है। इनमें सैमसंग, नोकिया जैसी कंपनियां शामिल हैं। जैना ग्रुप की फैक्ट्रियां तो कुछ दिन के लिए बंद भी पड़ी थीं। बता दें कि जैना ग्रुप कॉन्ट्रैक्ट पर इन कंपनियों के लिए फोन बनाता है।

Next Story
Share it
Top