Top
undefined

इन बैंकों में है आपका अकाउंट तो हो जाएं अलर्ट, एक अगस्त से बदलने जा रहे हैं आपके बैंक खाते से जुड़े नियम

इन बैंकों में है आपका अकाउंट तो हो जाएं अलर्ट, एक अगस्त से बदलने जा रहे हैं आपके बैंक खाते से जुड़े नियम
X

नई दिल्ली। देश के कई बैंक एक अगस्त से अपने सर्विस चार्ज में बदलाव करने जा रहे हैं। ऐसे में अगर आपने एक से ज्यादा बैंक अकाउंट खुलवा रखें है तो अलर्ट हो जाइये। क्योंकि एक से ज्यादा अकाउंट खुलवाने के कई नुकसान हैं। और इस बात के बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं। दरअसल, कई बैंक एक अगस्त से मिनिमम बैलेंस या कैश निकासी पर चार्ज लगाने वाले हैं।

टीओई के मुताबिक, बैंक ऑफ महाराष्ट्रा, एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और आरबीएल बैंक एक अगस्त से कैश विथड्रावल पर चार्ज लगाने वाले हैं। कैश विथड्रावल पार चार्ज नहीं लगता है तो इन बैंकों में मिनिमम बैलेंस का दायरा बढ़ाया जा सकता है।

बैंक ऑफ महाराष्ट्रा में सेविंग अकाउंट में मिनिमम बैलेंस की लिमिट 2000 रुपये है जो पहले 1500 रुपये ही थी। अगर मिनिमम बैलेंस 2000 से कम हुआ तो बड़े शहरों में 75 रुपये जबकि छोटे शहरों में 50 रुपये चार्ज प्रति माह लगेगा। वहीं अगर आपका खाता ग्रामीण क्षेत्र के बैंक में है तो यह चार्ज 20 रुपया लगेगा।

ठीक इसी तरह से करंट अकाउंट वालों को मिनिमम बैलेंस 5000 रुपया रखना होगा। तीन बार से ज्यादा की निकासी या जमा करने पर 100 रुपया कैश हैंडलिंग चार्ज वसूला जाएगा। बैंक ऑफ महाराष्ट्रा के एमडी और सीईओ एएस राजीव ने टोआई से कहा कि कोविड-19 के इस दौर में बैंक ये चाहते हैं कि लोग ज्यादा से ज्यादा डिजिटल ट्रांजेक्शन करें।

डिजिटल बैंकिंग को बढावा देने साथ ही बैंक में भीड़ कम करने के लिए ही कैश हैंडलिंग चार्ज बढाया गया है। आज की स्थिति को देखते हुए बैंकों की ये रणनीति है कि ग्राहक कैश निकासी या जमा करने के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करें।

एक्सिस बैंक भी बड़ा बदलाव करने जा रहा है। अब ग्राहकों से प्रत्येक ईसीएस ट्रांजेक्शन पर 25 रुपया चार्ज वसूला जाएगा। इससे पहले ईसीएस ट्रांजेक्शन चार्ज शुन्य रुपया था। ईसीएस वास्तव में एक सेवा है जिसकी मदद से ग्राहक एक बैंक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में फंड ट्रांसफर कर सकता है।

Next Story
Share it
Top