Top
undefined

पिछले 10 साल में 4.4 गुना बढ़ गया देश के म्यूचुअल फंड्स उद्योग का कुल असेट अंडर मैनेजमेंट

पिछले 10 साल में 4.4 गुना बढ़ गया देश के म्यूचुअल फंड्स उद्योग का कुल असेट अंडर मैनेजमेंट
X

नई दिल्ली। पिछले एक दशक में देश के म्यूचुअल फंड उद्योग का भारी विकास हुआ। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान उद्योग का कुल असेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 4.4 गुना बढ़कर अक्टूबर 2020 में 28.2 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया। अक्टूबर 2010 में यह 6.5 लाख करोड़ रुपए पर था।

रिपोर्ट में कहा गया है कि पहली बार म्चूचुअल फंड्स का AUM 28 लाख करोड़ रुपए के नए रिकॉर्ड स्तर के पार पहुंचा है। पिछले साल पहली बार इसने 27 लाख करोड़ रुपए के स्तर को पार किया था।

AUM में सितंबर 2020 के मुकाबले 5.1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इनकम, लिक्विडिटी और इक्विटी फंड्स ने इस बढ़ोतरी में मुख्य भूमिका निभाई। साथ ही सभी श्रेणियों में सितंबर 2020 के मुकाबले अक्टूबर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

इक्विटी AUM 1 माह में 1.6% बढ़कर 8.2 लाख करोड़ रुपए पर पहुंचा

घरेलू म्यूचुअल फंड्स का इक्विटी AUM सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में 1.6 फीसदी बढ़कर 8.2 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इसमें ELSS और इंडेक्स फंड्स भी शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि शेयर बाजार के मुख्य सूचकांकों में उछाल और इक्विटी स्कीम्स की बिक्री में मामूली बढ़ोतरी के कारण इक्विटी AUM में बढ़ोतरी हुई। इक्विटी स्कीम्स की बिक्री माह-दर-माह आधार पर 2.1 फीसदी बढ़कर 183 अरब रुपए पर पहुंच गया। निफ्टी में सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में 3.5 फीसदी की तेजी रही।

अक्टूबर में 31 महीने का सबसे बड़ा मासिक रिडेंप्शन

रिपोर्ट में हालांकि यह भी कहा गया कि सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में रिडेंप्शन 19.9 फीसदी बढ़कर 222 अरब रुपए पर पहुंच गया, जो 31 महीने में सबसे ज्यादा है। इसके कारण अक्टूबर में 39 अरब रुपए का नेट आउडफ्लो हुआ। अक्टूबर में लगातार चौथे महीने आउटफ्लो हुआ।

अक्टूबर में ग्रॉस इनफ्लोज और SIP कंट्रीब्यूशन 27 अरब रुपए पर स्थिर

रिपोर्ट के मुताबिक निवेशकों ने अक्टूबर 2020 में म्यूचुअल फंड्स में निवेश जारी रखा। इस दौरान ग्रॉस इनफ्लोज और SIP कंट्रीब्यूशन 27 अरब रुपए पर स्थिर रहा।

Next Story
Share it
Top