Top
undefined

शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ बंद सेंसेक्स 1380 और निफ्टी 364 अंक नीचे बंद

निफ्टी आईटी इंडेक्स में 636 और निफ्टी बैंक इंडेक्स में 802 अंकों की गिरावट रही

शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ बंद सेंसेक्स 1380 और निफ्टी 364 अंक नीचे बंद
X

मुंबई। कमजोर ग्लोबल संकेतों के कारण शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ बंद हुआ है। सेंसेक्स दिन के उच्चतम स्तर से 1380 अंक और निफ्टी 364 अंक नीचे बंद हुआ है। आज बाजार के लगभग सभी सेक्टर्स में भारी बिकवाली रही। निफ्टी आईटी इंडेक्स में 636 और निफ्टी बैंक इंडेक्स में 802 अंकों की गिरावट रही।

निफ्टी में बजाज फाइनेंस का शेयर 5% नीचे बंद हुआ है। इसके अलावा टेक महिंद्रा और आईसीआईसीआई बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के शेयर भी 4-4 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुए हैं। निफ्टी बैंक इंडेक्स में बंधन बैंक का शेयर 5% नीचे बंद हुआ है। इसके अलावा आईटी इंडेक्स में माइंडट्री का शेयर 7% नीचे बंद हुआ है। जिंदल स्टील और मदरसन सूमी के शेयरों में भी 4-4 फीसदी की गिरावट रही।

अंत में बीएसई सेंसेक्स 1066.33 अंक यानी 2.61% नीचे 39,728.41 पर और निफ्टी 290.70 अंक यानी 2.43% नीचे 11,680.35 पर बंद हुआ है। जबकि सुबह बीएसई 253.31 अंक ऊपर 41,048.05 पर और निफ्टी 52.4 अंक ऊपर 12,023.45 के स्तर पर खुला था।

बीएसई का मार्केट कैप 157.28 लाख करोड़ रुपए रहा

2,790 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। इसमें 816 कंपनियों के शेयर बढ़त और 1,823 कंपनियों के शेयर में गिरावट रही।

97 कंपनियों के शेयर 1 साल के उच्च स्तर और 59 कंपनियों के शेयर एक साल के निम्न स्तर पर रहे।

209 कंपनियों के शेयर में अपर सर्किट और 226 कंपनियों के शेयर में लोअर सर्किट लगा।

दुनियाभर के बाजारों में गिरावट

बुधवार को ग्लोबल मार्केट में गिरावट देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाउ जोंस 0.58% की गिरावट के साथ 165.81 अंक नीचे 28,514.00 पर बंद हुआ था। वहीं, नैस्डैक भी 97.81 अंकों की गिरावट के साथ 11,985.40 अंकों पर बंद हुआ है। इसके अलावा एसएंडपी 500 इंडेक्स भी 0.66% फिसलकर 23.26 अंक नीचे 3,488.67 के स्तर पर बंद हुआ था।

यूरोपियन शेयर मार्केट में भी बुधवार को बिकवाली रही। ब्रिटेन के FTSE और फ्रांस के CAC इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुआ। जबकि जर्मनी का DAX इंडेक्स हल्की बढ़त के साथ बंद हुआ था। दूसरी ओर एशियाई बाजारों में आज जापान के निक्केई इंडेक्स में 139.73 अंकों की भारी गिरावट है। जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट इंडेक्स में 0.20% की हल्की बढ़त है।

Next Story
Share it
Top