Top
undefined

सोने की बिक्री इस साल 30% घटकर 25 साल के निचले स्तर पर पहुंचने का अनुमान

सोने की बिक्री इस साल 30% घटकर 25 साल के निचले स्तर पर पहुंचने का अनुमान
X

नई दिल्ली. कोरोनावायरस की वजह से इस साल देश में सोने की बिक्री 25 साल में सबसे कम रह सकती है। इस साल बिक्री 30% घटने का अनुमान है। सोने की कीमतों में पिछले कुछ महीनों में आई तेजी की वजह से मांग पहले ही कम है। कोरोनावायरस का असर बढ़ने की वजह से देश के ज्यादातर इलाकों में लॉकडाउन होने से बाजार की स्थिति और बिगड़ गई है। चालू वित्त वर्ष में देश की जीडीपी ग्रोथ भी 11 साल में सबसे कम रहने का अनुमान है।

पिछले 25 साल में सबसे कम 477 टन सोना 1995 में बिका था

ब्लूमबर्ग मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ऑल इंडिया जेम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल के चेयरमैन एन अनंता पद्मनाभन का कहना है कि पिछले साल 690 टन सोना बिका था। लेकिन, इस साल बिक्री 30% घटने का अनुमान है। यानी इस साल 483 टन सोना बिकेगा। ऐसा हुआ तो यह 25 साल में सबसे कम बिक्री होगी। इससे कम 477 टन सोने की बिक्री 1995 में हुई थी।

अगले कुछ हफ्तों में सोने की मांग 40% घटने की आशंका

कोरोनावायरस की वजह से देश के प्रमुख शहरों में शॉपिंग मॉल और कॉम्प्लेक्स बंद हैं। मार्केट वैल्यू के हिसाब से देश के सबसे बड़े ज्वेलर टाइटन ने 29 मार्च तक अपने स्टोर और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट बंद कर दी हैं। इसके बाद भी स्थिति को देखते हुए फैसला लिया जाएगा। मुंबई स्थित देश का सबसे बड़ा बुलियन मार्केट जवेरी बाजार भी अगले आदेश तक बंद है। इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट पृथ्वीराज कोठारी के मुताबिक ऐसे हालातों में आने वाले कुछ हफ्तों में सोने की मांग में 40% कमी आ सकती है।

Next Story
Share it
Top