Top
undefined

आरबीआई से बैंकों को मिली राहत का असर, यूबीएस का टॉप-4 बैंकिंग शेयरों पर खरीदारी की सलाह

आरबीआई से बैंकों को मिली राहत का असर, यूबीएस का टॉप-4 बैंकिंग शेयरों पर खरीदारी की सलाह
X

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की तरफ से हाल ही में धन जुटाने और राहत के उपायों पर ढील देने के बाद भारतीय बैंक का जोखिम कम हो गया है। इससे वैश्विक निवेश बैंकिंग कंपनी यूबीएस का रुख अब चुनिंदा सरकारी और प्राइवेट लेंडर पर सकारात्मक हो गया है। यूबीएस की रिपोर्ट के मुताबिक देश की इकॉनमी में अच्छी रिकवरी हो रही है, फॉर्मल सेक्टर में नौकरियां बढ़ रहीं हैं और एनपीए भी अब घट रहा है। इससे प्राइवेट बैंकों की हालत में भी सुधार होते दिख रहा है। इनमें आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, कोटक महींद्रा बैंक के अलावा यस बैंक भी शामिल है, जो अलग-अलग उपायों से फंड जुटाने में कामयाब रहे हैं।

यूबीएस का कहना है कि भारत में ज्यादातर लेंडर बीते संकट के मुकाबले अच्छी स्थिति में पहुंच गए हैं। यूबीएस आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक पर दांव लगाने को तैयार है, जबकि एसबीआई और इंडसइंड बैंक पर खरीदारी की सलाह है।

आईसीआईसीआई बैंक: घरेलू निवेशकों के अलावा बैंक ग्लोबल ब्रोकरेजों का भी पसंदीदा स्टॉक है। मोरोटोरियम में बैंक का लोन करीब 18% का है, जो पहले फेज में 30 फीसदी घट गया है। यूबीएस को उम्मीद है कि आईसीआईसीआई बैंक अपने पांच साल के औसत प्रीमियम से अधिक प्रीमियम पर ट्रेड करेगा। फिलहाल बैंक का शेयर 396 रुपए पर कारोबार कर रहा है। यूबीएस की तरफ से 520 रुपए का लक्ष्य दिया गया है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया: एसबीआई पर सीएलएसए और गोल्डमैन सैश भी बुलिश है। यूएसबी का कहना है कि बैंक का प्रोविजन कवरेज रेश्यो ही इसे अन्य सरकारी बैंकों के मुकाबले बेहतर बनाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, जून 2020 तक मोरोटोरियम में बैंक लोन की हिस्सेदारी 9.5 प्रतिशत थी। एसबीआई 215 रुपए पर कारोबार कर रहा है। यूबीएस ने स्टॉक पर 260 रुपए का लक्ष्य दिया है।

एक्सिस बैंक: अगस्त के शुरुआत में बैंक ने 15 हजार करोड़ जुटाया है। हाई फायनेंशियल क्वालिटी के रिस्क और लोन बुक में धीमी रफ्तार के कारण चालू वित्त वर्ष 2020-21 में एक्सिस बैंक का आरओई 8% / 12% का अनुमान है। किसी भी कंपनी में निवेश पर कितना रिटर्न मिला यह 'आरओई' बताती है। यूबीएस का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2023 में बैंक की आरओई में 15 फीसदी तक वापस आ सकती है। बैंक का शेयर फिलहाल 472 रुपए पर कारोबार कर रहा है। यूबीएस ने एक्सिस बैंक पर 650 का लक्ष्य दिया है।

इंडसइंड बैंक: स्टॉक्स 600 रुपए पर ट्रेड कर रहा है। यूबीएस बैंक पर 675 रुपए का लक्ष्य दिया है। यूबीएस का मानना है कि हाल ही मिले रेग्यूलेटरी ढील से बैंक को बढ़ते एनपीए से राहत मिल सकती है। आने वाले दिनों में बैंकों का जोखिम कम करने में मददगार हो सकता है।

Next Story
Share it
Top