Top
undefined

कोरोना वैक्सीन की खबर से बाजार ने फिर बनाया एक और रिकॉर्ड, सेंसेक्स पहली बार 43,952 के पार बंद

कोरोना वैक्सीन की खबर से बाजार ने फिर बनाया एक और रिकॉर्ड, सेंसेक्स पहली बार 43,952 के पार बंद
X

मुंबई। कोरोना की एक और वैक्सीन के सफल ट्रायल की खबर से दुनियाभर के बाजारों में शानदार तेजी देखने को मिल रही। इसमें भारतीय शेयर बाजार भी शामिल है। मंगलवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स ने 44,161.16 और निफ्टी ने 12,934.05 के सर्वोच्च स्तर को टच किया। कारोबारी सत्र के दौरान दोनों इंडेक्स का यह सर्वोच्च स्तर है। वहीं, बाजार में शानदार बढ़त के चलते पहली बार BSE में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 170 लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच गया है।

आज सेंसेक्स 314.73 अंक ऊपर 43,952.71 पर और निफ्टी 93.95 अंक ऊपर 12,874.20 पर बंद हुआ है। मंगलवार को बाजार की बढ़त को बैंकिंग और मेटल शेयरों ने लीड किया। जबकि, आईटी शेयर गिरावट के साथ बंद हुए।

निफ्टी में टाटा मोटर्स का शेयर 6% से अधिक की बढ़त के साथ बंद हुआ है। टाटा स्टील और एचडीएफसी लाइफ के शेयर भी 5-5 फीसदी ऊपर बंद हुए हैं। दूसरी ओर, बीपीसीएल का शेयर 4% नीचे बंद हुआ है। हीरो मोटोकॉर्प और एनटीपीसी का शेयर भी 2-2 फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ है। सुबह BSE सेंसेक्स 457.87 अंक ऊपर 44,095.85 पर और निफ्टी 152.25 अंक ऊपर 12,932.50 पर खुला था।

टाटा ग्रुप के शेयरों में तेजी

टाटा स्टील का शेयर BSE में 6.24% ऊपर 522.80 पर बंद हुआ है। आज शेयर ने 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर को टच किया, जो 530.80 रुपए प्रति शेयर है। दरअसल, कंपनी नीदरलैंड में स्थित अपने कारोबार को स्वीडन बेस्ड SSAB के बचेगी। इसमें इमुइदेन स्टील वर्क्स शामिल है। टाटा मोटर्स और टाटा मोटर्स डीवीआर के शेयरों में भी क्रमश: 6% और 7% की बढ़त के साथ बंद हुआ है।

बीएसई का मार्केट कैप 170.56 लाख करोड़ रुपए रहा

3,002 कंपनियों के शेयरों में ट्रेडिंग हुई। इसमें 1,561 कंपनियों के शेयरों में बढ़त और 1,257 कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही

179 कंपनियों के शेयर 1 साल के उच्च स्तर और 51 कंपनियों के शेयर एक साल के निम्न स्तर पर रहे

359 कंपनियों के शेयर में अपर सर्किट और 195 कंपनियों के शेयर में लोअर सर्किट लगा

बाजार में बढ़त की वजह -

1. कोरोना वैक्सीन - अमेरिका की बॉयोटेक कंपनी मॉडर्ना ने सोमवार को कोविड-19 वैक्सीन का ऐलान किया है। कंपनी का दावा है कि यह वैक्सीन कोरोना के मरीजों को बचाने में 94.5% तक असरदार है। यह दावा लास्ट स्टेज क्लीनिकल ट्रायल के नतीजों के आधार पर किया गया है।

2. ग्लोबल मार्केट में तेजी - सोमवार को अमेरिकी बाजार में तेजी रही। डाउ जोंस और S&P 500 इंडेक्स में 1-1 फीसदी की तेजी के साथ बंद हुए थे। इसके अलावा यूरोपियन बाजारों में भी शानदार तेजी देखने को मिली थी। सोमवार को MSCI इंडेक्स के एशिया पेसिफिक शेयर 33 सालों के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया था। हालांकि, इंडेक्स में जापान नहीं शामिल है। इस इंडेक्स की शुरुआत 1987 से हुआ। मंगलवार को भी यह 0.11% की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है।

3. बाजार में FPI निवेश - नवंबर माह में FPI ने भारतीय शेयरों में 29,436 करोड़ रुपए निवेश का निवेश किया। हालांकि, यह अगस्त के रिकॉर्ड स्तर 47,080 करोड़ रुपए से कम है। अक्टूबर में यह आंकड़ा 19,541 करोड़ रुपए का रहा था।

4. दिग्गज शेयरों में तेजी - सुबह सेंसेक्स इंडेक्स में शामिल 30 में से 28 कंपनियों के शेयरों में बढ़त रही। रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील, एचडीएफसी बैंक और भारती एयरटेल के शेयरों में भी 1-2 फीसदी की तेजी देखने को मिली।

एशियाई बाजारों में गिरावट

आज एशियाई बाजारों में जापान का निक्केई इंडेक्स 107 अंक ऊपर 26,014 पर बंद हुआ है। हॉन्गकॉन्ग का हेंगसेंग इंडेक्स 33.42 अंकों की बढ़त के साथ 26,415.10 पर बंद हुआ है। दूसरी ओर, चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स 0.21% की गिरावट के साथ 3,339.90 पर बंद हुआ है।

दुनियाभर के बाजारों में रही बढ़त

सोमवार को दुनियाभर के बाजारों में बढ़त देखने को मिली। अमेरिकी बाजार में डाउ जोंस इंडेक्स 1.60% तेजी के साथ 399.64 अंक ऊपर 29,950.40 पर बंद हुआ था। नैस्डैक इंडेक्स भी 0.63% की बढ़त के साथ 75.54अंक ऊपर 12,013.40 पर बंद हुआ था। वहीं, एसएंडपी 500 इंडेक्स 41.76 पॉइंट ऊपर 3,6.26.91 पर बंद हुआ था।

कल यूरोपियन मार्केट में भी खरीदारी देखने को मिली। फ्रांस का CAC इंडेक्स 1.70% की बढ़त के साथ 5,471.48 पर बंद हुआ था। सोमवार को जर्मनी का DAX इंडेक्स 0.47% ऊपर 13,138.60 पर बंद हुआ था। वहीं, ब्रिटेन का FTSE इंडेक्स 1.66% नीचे 6,421.29 पर बंद हुआ था।

Next Story
Share it
Top