Top
undefined

रिलायंस इंडस्ट्रीज में FII की हिस्सेदारी बढ़कर 25.2 प्रतिशत हुई

रिलायंस इंडस्ट्रीज में FII की हिस्सेदारी बढ़कर 25.2 प्रतिशत हुई
X

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) को खूब भा रही है। RIL की ओर से दाखिल रेगुलेटरी फाइलिंग के मुताबिक, सितंबर तिमाही में FII की शेयर होल्डिंग बढ़कर 25.2 फीसदी हो गई है। जून तिमाही में यह 24.72 फीसदी थी।

FII के पास अब कुल 165.8 करोड़ शेयर

RIL की ओर से दाखिल शेयर होल्डिंग पैटर्न के मुताबिक, अब FII के पास कुल 165.8 करोड़ शेयर हो गए हैं। जून तिमाही के अंत में इनके पास 163.07 करोड़ शेयर थे। इस प्रकार FII ने बीते तीन महीनों में RIL के 2.73 करोड़ शेयर खरीदे हैं। RIL के मुताबिक, जुलाई-सितंबर तिमाही में 160 नए FII ने शेयर खरीदे हैं। अब RIL में कुल FII की संख्या बढ़कर 1631 हो गई है।

स्टील और अन्य एनर्जी सेक्टर के शेयरों की बिक्री कर रहे FII

जेपी मोर्गन की एक रिसर्च के मुताबिक, FII स्टील और अन्य एनर्जी कंपनियों के शेयरों की बिक्री कर रहे हैं। केवल बेस मेटल के शेयर ऐसे हैं जहां पर FII ने होल्डिंग बढ़ाई है। रिपोर्ट के मुताबिक, RIL में FII की हिस्सेदारी ने नया रिकॉर्ड बनाया है। तिमाही आधार पर FII ने अपनी शेयर होल्डिंग में 60 बेसिस पॉइंट की बढ़ोतरी की है।

लगातार दूसरी तिमाही में घटी म्यूचुअल फंड की हिस्सेदारी

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में RIL में म्यूचुअल फंड की हिस्सेदारी में 25 बेसिस पॉइंट की गिरावट रही है। यह लगातार दूसरी तिमाही है जब म्यूचुअल फंड की हिस्सेदारी में कमी दर्ज की गई है। अब RIL में म्यूचुअल फंड की हिस्सेदारी 5.12 फीसदी रह गई है। इसी प्रकार से म्यूचुअल फंड ने एनर्जी और मेटल सेक्टर के अन्य शेयरों में भी बिक्री की है। स्टील स्टॉक्स में FII की हिस्सेदारी एक दशक के निचले स्तर पर पहुंच गई है।

प्रमोटर्स ने भी हिस्सेदारी बढ़ाई

हालांकि, इस अवधि में प्रमोटर्स ने RIL में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है। रेगुलेटरी फाइलिंग के मुताबिक, अब RIL में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी बढ़कर 50.49 फीसदी हो गई है। पिछली तिमाही में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 50.37 फीसदी थी। प्रमोटर्स में मुकेश अंबानी की फैमिली के सदस्य शामिल हैं।

Next Story
Share it
Top