Top
undefined

तिमाही नतीजेः PNB को वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में हुआ 697 करोड़ रुपये का घाटा

तिमाही नतीजेः PNB को वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में हुआ 697 करोड़ रुपये का घाटा
X

नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) का बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी जनवरी-मार्च की तिमाही का एकल शुद्ध घाटा कम होकर 697.20 करोड़ रुपये रह गया है. एनपीए का प्रावधान कम रहने से बैंक का घाटा कम हुआ है.

इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक को 4,750 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. तिमाही के दौरान बैंक की कुल आय बढ़कर 16,388.32 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 14,725.13 करोड़ रुपये रही थी.

मीडिया को संबोधित करते हुए पीएनबी के निदेशक मल्लिकार्जुन राव ने शनिवार को कहा कि बैंक ने वित्त वर्ष के दौरान 10,000 करोड़ रुपये की नकद वसूली है. इससे नई गैर निष्पादित आस्तियां को 20,000 करोड़ रुपये पर रोका जा सका है. उन्होंने कहा कि आगे चलकर बैंक चालू वित्त वर्ष में 6,000 से 8,000 करोड़ रुपये की वसूली की उम्मीद कर रहा है. उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष के दौरान पिछले साल के बचे कुछ बड़े खातों मसलन भूषण पावर एंड स्टील के समाधान की उम्मीद है. तिमाही के दौरान बैंक का परिचालन लाभ 3,932.28 करोड़ रुपये रहा, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 2,861.18 करोड़ रुपये रहा था.

बैंक की सकल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) मार्च, 2020 के अंत तक घटकर 14.21 फीसदी या 73,478.76 करोड़ रुपये रह गईं. मार्च, 2019 के अंत तक यह कुल ऋण पर 15.50 फीसदी या 78,472.70 करोड़ रुपये थीं. इसी तरह बैंक का शुद्ध एनपीए भी 6.56 प्रतिशत से घटकर 5.78 फीसदी रह गया. मूल्य के हिसाब से यह 30,037.66 करोड़ रुपये से घटकर 27,218.89 करोड़ रुपये रह गया.

संपत्ति की गुणवत्ता के मोर्चे पर सुधार के बीच मार्च तिमाही में बैंक का डूबे कर्ज के लिए प्रावधान घटकर 4,618.27 करोड़ रुपये रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 9,153.55 करोड़ रुपये था. इसी तरह कर और अन्य आकस्मिक खर्च भी घटकर 4,901.31 करोड़ रुपये रह गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 10,007.11 करोड़ रुपये था.

पूरे वित्त 2019-20 में बैंक का मुनाफा 363.34 करोड़ रुपये रहा. इससे पिछले वित्त वर्ष में बैंक को 10,026.41 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. वित्त वर्ष के दौरन बैंक की कुल आय 64,306.13 करोड़ रुपये रही, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 59,514.53 करोड़ रुपये रही थी.

Next Story
Share it
Top