Top
undefined

आनंद महिंद्रा छोड़ेंगे पद, पवन गोयनका और फिर अनीश शाह होंगे महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के एमडी और सीईओ

आनंद महिंद्रा छोड़ेंगे पद, पवन गोयनका और फिर अनीश शाह होंगे महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के एमडी और सीईओ
X

नई दिल्ली. देश की दिग्गज वाहन निर्माता कंपनी महिंद्रा ऐंड महिंद्रा के कार्यकारी अध्यक्ष आनंद महिंद्रा 1 अप्रैल, 2020 से अपने पद से हट जाएंगे। हालांकि वह कंपनी में नॉन-एग्जिक्यूटिव चेयरमैन के तौर पर बने रहेंगे। महिंद्रा ऐंड महिंद्रा की गवर्नेंस, नॉमिनेशन ऐंड रेम्यूनेरेशन कमिटी ने बोर्ड और सीनियर मैनेजमेंट की रिस्ट्रक्चरिंग के तहत यह फैसला लिया है। कंपनी ने शुक्रवार को शेयर बाजार को इसकी जानकारी दी। 1 अप्रैल 2021 से अनीश शाह कंपनी के नए सीईओ और एमडी होंगे।

पवन गोयनका दोबारा बने एमडीवहीं, पवन कुमार गोयनका को दोबारा कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर पद पर नियुक्त किया गया है। गोयनका को एक साल के लिए कंपनी के सीईओ पद का अतिरिक्त प्रभार भी सौंपा गया है, जो एक अप्रैल, 2020 से प्रभावी होगा।

गोयनका के बाद अनीश शाह संभालेंगे कमान

गोयनका के बाद कंपनी के सीईओ पद की कमान अनीश शाह संभालेंगे, जो फिलहाल महिंद्रा ऐंड महिंद्रा में ग्रुप प्रेजिडेंट (स्ट्रैटेजी) हैं। सीईओ के रूप में उनका कार्यकाल 1 अप्रैल 2021 से शुरू होगा। शाह 1 अप्रैल, 2020 से कंपनी के सीएफओ पद की कमान भी संभालेंगे, जिस पद पर अभी वी. एस. पार्थशास्त्री हैं। सीईओ के रूप में शाह का कार्यकाल 31 मार्च, 2015 तक चार वर्षों का होगा।

शाह पूर्णकालिक निदेशक भी बने

शाह को कंपनी का पूर्णकालिक निदेशक भी नियुक्त किया गया है और वह अगले वित्त वर्ष से एक साल के लिए कंपनी के डेप्युटी मैनेजिंग डायरेक्टर पद की भी कमान संभालेंगे। पार्थशास्त्री को 1 अप्रैल, 2020 से कोई नया पद दिया जाएगा, जिसके बारे में फिलहाल खुलासा नहीं किया गया है।

राजेश जेजुरीकार एग्जिक्युटिव डायरेक्टर

कंपनी के मौजूदा प्रेजिडेंट (फार्म इक्विपमेंट सेक्टर) राजेश जेजुरीकार को ऑटोमोटिव ऐंड फॉर्म सेक्टर्स के एग्जिक्युटिव डायरेक्टर के पद पर नियुक्त किया गया है। इनका कार्यकाल चार साल का होगा और यह 1 अप्रैल, 2020 से प्रभावी होगा।

Next Story
Share it
Top