Top
undefined

जाति विवाद मामला : अजीत जोगी की बहु ऋचा की याचिका पर सभी पक्षों से मांगा जवाब

जाति विवाद मामला : अजीत जोगी की बहु ऋचा की याचिका पर सभी पक्षों से मांगा जवाब
X

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के अध्यक्ष अमित जोगी की पत्नी ऋचा जोगी प्रकरण पर बुधवार को सुनवाई हुई। हाई कोर्ट ने मामले में सभी पक्षों को चार सप्ताह में जवाब मांगा है। ऋचा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अधिनियम 2013 के संशोधन और जिला स्तरीय छानबीन समिति के फैसले को चुनौती दी है।

याचिका में कहा है कि 1950 के पहले से उनके पूर्वज मुंगेली के पास रहते आए और दस्तावेजों में गोंड जाति की हैं। याचिका में ऋचा ने कहा है कि कांग्रेस पर जाति प्रमाणपत्र रद करवाकर मरवाही उपचुनाव लड़ने देने से रोकने का आरोप लगाया है। पिछली सुनवाई कोरोना काल में वीडियो का​न्फेसिंग के माध्यम से हुई थी। तब ऋचा जोगी के वकील गैरी मुखोपाध्याय ने प्रकरण को नियमित बेंच में भेजने का आग्रह किया था।

आदिवासी नेता नेताम ने दायर की है कैविएट

आदिवासी नेता संतकुमार नेताम ने वकील संदीप दुबे व सुदीप श्रीवास्तव के माध्यम से कैविएट दायर की है। इसमें आशंका जताई थी कि ऋचा जोगी अपने जाति के संबंध में मुंगेली जिला स्तरीय जाति छानबीन समिति के नोटिस को चुनौती दे सकती हैं। लिहाजा, उनके पक्षों को भी सुना जाए।

संशोधन की संवैधानिकता पर होगी बहस

सुनवाई के दौरान केविएटकर्ता संत कुमार नेताम के वकील और मुंगेली निवासी वकील सुरेश खुसरो ने पक्षकार बनाने की मांग कि और अपना भी पक्ष सुने जाने का आग्रह किया। इस पर कोर्ट ने आग्रह को स्वीकर कर लिया है। अगली सुनवाई में शासन द्वारा जाति छानबीन समिति के नियमों में किए गए संशोधन की वैधानिकता पर बहस होगी।

Next Story
Share it