Top
undefined

आइसक्रीम से सीखो- जिंदगी पिघलने से पहले एंजॉय करना

आइसक्रीम से सीखो- जिंदगी पिघलने से पहले एंजॉय करना
X

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में इस्कॉन के मशहूर संत और मोटिवेशनल स्पीकर गौर गोपाल दास पहुंचे। यहां उन्होंने शिक्षा और जीवन पर बच्चों और अभिभावकों को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि हम जब आइसक्रीम खाते हैं तो उसमें भी एक सीख है। आइसक्रीम हम पिघलने से पहले खा लेते हैं, यह हमें सिखाती है कि हमें जिंदगी के पिघलने से पहले उसे एंजॉय करना है। दूसरी तरफ मोमबत्ती भी पिघलती है। वो खुद को पिघलाकर दूसरों की जिंदगी में रोशनी भरती है। हमें भी ऐसे ही दूसरों के लिए कुछ योगदान देना होगा, सिर्फ अपने बारे में सोचने से काम नहीं चलेगा।

ये भी कहा : -

- मैं सारे बच्चों से कहता हूं कि ट्राय एंड यूज टेक्नोलॉजी, सोशल मीडिया को इस्तेमाल करो मगर सही मात्रा में। अगर हमने कम खाना खाया तो कमजोर हो जाएंगे, ज्यादा खाया तो मोटे, पानी ज्यादा पी लिया तो बीमार पड़ेंगे कम पीता तो भी। इसलिए सही मात्रा में सोशल मीडिया यूज करें।

- फ्रेंड की इंस्टाग्राम स्टोरी देखने में वक्त बर्बाद न करें, क्योंकि ऐसा करने से आप खुद को उससे कंपेयर करेंगे, ये सोचेंगे कि उसका जीवन अच्छा है, उसके हॉलीडे, कपड़े, माता पिता सब अच्छे हैं। यह सोचेंगे कि वो बैटर है तो आप कैसे बैटर होंगे, इसलिए खुद की ग्रोथ पर सोचें

संस्कृत अच्छी भाषा है यदि इसमें किसी को गधा कहना है तो कहना होगा वैशाखनंदन, किसी से कहिएगा हे वैशाखनंदन तो उसे लगेगा कि आप उसकी स्तुति कर रहे हैं

- महात्मा गांधी लंदन में कहीं जा रहे थे उनसे एक आदमी ने आकर कहा कि आप जेंटलमेन की तरह कपड़े क्यों नहीं पहनते, गांधी जी ने कहा कि आपके देश में टेलर जेंटलमेन बनाते हैं हमार देश में कैरेक्टर

Next Story
Share it
Top