Top
undefined

भारत ने कहा- आतंकियों का मददगार हमारे घरेलू मामलों में दखल न दे, पाकिस्तान अपने अल्पसंख्यकों को उनका हक दे

भारत ने कहा- आतंकियों का मददगार हमारे घरेलू मामलों में दखल न दे, पाकिस्तान अपने अल्पसंख्यकों को उनका हक दे
X

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन पर पाकिस्तान तिलमिला गया है। इमरान सरकार के मंत्रियों के अलावा वहां के विदेश मंत्रालय ने भी इस पर टिप्पणी की थी। भारत ने गुरुवार को इस पर कड़े शब्दों और सख्त लहजे में जवाब दिया। भारत के विदेश मंत्रालय ने कहा- दूसरे देशों में आतंकियों को भेजने वाला पाकिस्तान हमारे अंदरूनी मामलों में दखलंदाजी की कोशिश न करे। वो सबसे पहले अपने देश के अल्पसंख्यकों को उनके अधिकार दिलाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन किया था। पाकिस्तान के रेल मंत्री ने इस पर घटिया बयानबाजी की थी।

सांप्रदायिकता भड़काने वाली बयानबाजी न हो

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन पर पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। वहां से कुछ टिप्पणियां सामने आईं। इसका जवाब भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने गुरुवार को दिया। अनुराग ने कहा, "हमने इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान का बयान देखा। उसे भारत के अंदरूनी मामलों में दखल देने और सांप्रदायिकता भड़काने की साजिशों से बाज आना चाहिए।"

आतंकवाद फैलाता है पाकिस्तान

प्रवक्ता ने आगे कहा, "पाकिस्तान के इस रवैये से हमें कोई हैरानी नहीं हुई। यह एक ऐसे मुल्क का बयान है जो सीमा पार आतंकवादियों की घुसपैठ कराता है, और फिर इससे इनकार करता है। अपने अल्पसंख्यकों को उनके अधिकार नहीं देता। फिर भी हम इस बयान की निंदा करते हैं।"

'भारत अब श्री राम नगर'

बुधवार को इमरान के रेल मंत्री शेख रशीद ने भारत में सेक्युलरिज्म पर सवाल उठाए थे। रशीद ने कहा था- भारत अब राम नगर में तब्दील हो चुका है। वहां सांप्रदायिकता बढ़ रही है। धर्म निरपेक्षता यानी सेक्युलरिज्म खत्म हो रहा है। साफ तौर पर कहूं तो भारत अब सेक्युलर रहा ही नहीं। वहां अल्पसंख्यकों को दिक्कत हो रही है। भारत अब श्रीराम के हिंदुत्व में ढल चुका है।

Next Story
Share it
Top