Top
undefined

गुजरात हादसे के चश्मदीद की जुबानी: एक मरीज को बेडशीट से बांधकर रखा गया था, आग लगने के बाद वह बेड से उठ नहीं पाया और मौत हो गई

गुजरात हादसे के चश्मदीद की जुबानी: एक मरीज को बेडशीट से बांधकर रखा गया था, आग लगने के बाद वह बेड से उठ नहीं पाया और मौत हो गई
X

अहमदाबाद। अहमदाबाद के कोविड अस्पताल हादसे में अब एक चौंकाने वाली बातें सामने आई है। अस्पताल के एक वॉर्ड ब्वॉय ने बताया कि आईसीयू में जब आग लगी थी, तब एक कोरोना मरीज अरविंदभाई भावसार की स्थिति बेड से उठने लायक भी नहीं थी, क्योंकि उसे बेडशीट से बांधकर रखा गया था। यही वजह रही कि वह आईसीयू से बाहर नहीं निकल पाया और उसकी मौत हो गई।

श्रेय कोविड अस्पताल के आईसीयू में गुरुवार तड़के 3.30 बजे आग लग गई। इस हादसे में 5 पुरुष और 3 महिलाओं समेत 8 मरीजों की जान चली गई। हादसे के वक्त आईसीयू में 10 मरीज और मेडिकल स्टाफ था।

बार-बार ऑक्सीजन मास्क निकाल रहे थे अरविंद

वॉर्ड ब्वॉय ने बताया कि अरविंदभाई बार-बार ऑक्सीजन मास्क निकाल रहे थे। उनसे बार-बार रिक्वेस्ट की जा रही थी कि अपना मास्क न निकालें, लेकिन वे नहीं मान रहे थे। इसी के चलते बेडशीट से उन्हें बांध दिया गया था। हादसे के दौरान जब आग फैल गई तो वे बेड से उठ भी नहीं सके।

मरीज भाविनभाई ने बताया- जलते हुए एक मरीज को भागते देखा

अस्पताल के एक मरीज भाविनभाई ने बताया कि उन्होंने जलते हुए एक मरीज को आईसीयू से भागते देखा। भाविनभाई अपनी बहन, बहनोई और भांजी के साथ इसी अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। उन्होंने बताया कि रात को मुझे नींद नहीं आ रही थी। मैं वेब सीरीज देख रहा था। तभी आईसीयू से चीख-पुकार सुनाई दी। मैंने देखा तो एक मरीज आग का गोला बन चुका था और जान बचाने के लिए इधर-उधर भाग रहा था। फिर अचानक वह मरीज जमीन पर गिर गया। आईसीयू के हालात इतने बदतर हो चुके थे कि मैं चाहकर भी कुछ नहीं कर सकता था।

Next Story
Share it
Top