Top
undefined
Breaking

देश की आधी से अधिक आबादी 25 साल या फिर उससे ज्यादा उम्र की

सर्वे के जरिए पता चला है कि देश का सबसे युवा राज्य बिहार है। यहां पर 25 साल से कम उम्र की आबादी 57.2 फीसदी है। वहीं 52.7 फीसदी आबादी के साथ उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर जबकि 51.9 फीसदी आबादी के साथ झारखंड तीसरे स्थान पर है।

देश की आधी से अधिक आबादी 25 साल या फिर उससे ज्यादा उम्र की

नयी दिल्ली। हिन्दुस्तान एक युवा देश है। ऐसा एक सर्वे के जरिए पता चला है। सर्वे के मुताबिक भारत की आधी से अधिक आबादी या तो 25 साल की है या फिर उससे अधिक उम्र की है। वहीं, बची हुई 46.9 फीसदी आबादी 25 साल से कम उम्र की है। भारत के महा पंजीयक एवं जनगणना आयुक्त की तरफ से तैयार नमूना पंजीकरण तंत्र 2018 में कहा गया है कि देश में 25 साल से कम्र उम्र की आबादी में पुरुषों की संख्या 47.4 फीसदी है जबकि महिलाओं की संख्या 46.3 फीसदी है।

सबसे युवा राज्य बिहार

सर्वे के जरिए पता चला है कि देश का सबसे युवा राज्य बिहार है। यहां पर 25 साल से कम उम्र की आबादी 57.2 फीसदी है। वहीं 52.7 फीसदी आबादी के साथ उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर जबकि 51.9 फीसदी आबादी के साथ झारखंड तीसरे स्थान पर है। इन राज्यों के अलावा भी कुछ राज्य ऐसे हैं जहां पर 50 फीसदी से ज्यादा 25 साल से कम उम्र की आबादी अपना जीवन व्यतीत कर रही है। ऐसे राज्यों में उत्तराखंड, राजस्थान और मध्य प्रदेश शामिल हैं।

केरल में सबसे कम युवा

केरल देश का ऐसा राज्य है जहां पर 25 साल के कम उम्र के लोगों की संख्या सबसे कम है। इतना ही नहीं ग्रामीण इलाकों की तुलना में यहां पर 25 साल से कम उम्र के लोगों की संख्या भी कम है। 25 साल से कम आबादी वाले राज्यों की बात करें तो केरल में 37.4 प्रतिशत, तमिलनाडु में 37.8 प्रतिशत, आंध्र प्रदेश में 38.8 प्रतिशत, हिमाचल प्रदेश में 39.8 प्रतिशत हैं। इस रिपोर्ट में बताया गया कि अपने मुल्क में जैसे-जैसे प्रजनन की दर गिरती जा रही है ठीक उसी प्रकार युवा आबादी का अनुपात भी गिरता जा रहा है। हालांकि देश में 50 फीसदी से ज्यादा जनसंख्या 25 साल से ऊपर से की है जिसका मतलब है कि भारत का भविष्य युवाओं के कंधों पर टिका हुआ है। सर्वे में एक बात और सामने आई कि ग्रामीण पुरुषों में भी 25 साल से कम उम्र के लोगों के अनुपात में गिरावट देखी गई है। साल 2017 में 50.2 फीसदी से घटकर 49.9 फीसदी हो गई।

मृत्युदर के मामले छत्तीसगढ़ सबसे ऊपर

दिल्ली में जहां मृत्युदर सबसे कम है तो वहीं छत्तीसगढ़ को सूची में पहला स्थान प्राप्त हुआ है। बता दें कि छत्तीसगढ़ में मृत्युदर सबसे ज्यादा 8 फीसदी है और दिल्ली में 3.3 फीसदी है। अगर हम साल 1971 की बात करें तो देश में मृत्यु दर 14.9 फीसदी के आसपास थी जो 2018 में घटकर 6.2 फीसदी हो गई है।

Next Story
Share it
Top