Top
undefined
Breaking

पुलिस के पास बयान दर्ज कराने के बाद लौटे धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ अपूर्व मेहता

पुलिस के पास बयान दर्ज कराने के बाद लौटे धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ अपूर्व मेहता

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में पुलिस ने मंगलवार को धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ अपूर्व मेहता का बयान दर्ज किया। पुलिस ने करीब तीन घंटे तक अंबोली थाने में उनसे पूछताछ की। बताया जा रहा है कि पुलिस ने अपूर्व से धर्मा प्रोडक्शन की फिल्म 'ड्राइव' को थिएटर्स की बजाए सीधे ओटीटी प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स पर रिलीज करने की वजह के बारे में सवाल पूछे और इस बारे में सुशांत से हुई बातचीत की जानकारी भी ली।

पुलिस ने 'ड्राइव' के लिए सुशांत के साथ हुए कॉन्ट्रैक्ट की कॉपी भी अपने पास जमा करवा ली। धर्मा प्रोडक्शन्स के मालिक करन जौहर हैं। जल्द ही उन्हेंं भी पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। इससे पहले सोमवार को पुलिस ने फिल्म मेकर महेश भट्ट से सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में करीब दो घंटे तक पूछताछ की थी।

बदली गई थी पूछताछ की जगह

भट्ट को पूछताछ के लिए बांद्रा पुलिस स्टेशन बुलाया था। लेकिन मीडिया के जमावड़े को देखते हुए भट्ट ने पुलिस से सांताक्रूज पुलिस स्टेशन में पूछताछ करने का आग्रह किया। इसके बाद मामले की जांच करने वाले पुलिस अधिकारी सांताक्रूज पुलिस स्टेशन पहुंचे। सूत्रों के मुताबिक, महेश भट्ट से फिल्म सड़क-2 को लेकर भी पूछताछ हुई है।

करन जौहर से भी होगी पूछताछ

इस मामले में फिल्ममेकर और धर्मा प्रोडक्शन्स के मालिक करन जौहर से भी पूछताछ की जाएगी। न्यूज एजेंसी ने सोमवार को मुंबई पुलिस के हवाले से इस बारे में जानकारी दी थी। सूत्रों की मानें तो पुलिस ने करन जौहर से सुशांत के साथ बनाई उनकी फिल्म 'ड्राइव' के कॉन्ट्रैक्ट की कॉपी भी मांगी है।

उपमुख्यमंत्री के बेटे ने भी की सीबीआई जांच की मांग

अभिनेता की मौत के मामले में एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार के बेटे पार्थ पवार ने सीबीआई जांच की मांग की है। अपनी मांग को लेकर उन्होंने सोमवार को प्रदेश के गृह मंत्री अनिल देशमुख को एक पत्र सौंपा।

पुलिस पर भड़क गई थीं कंगना

धर्मा प्रोडक्शन्स के सीईओ को समन भेजने की बात सामने आने के बाद रविवार को एक्ट्रेस कंगना रनोट पुलिस पर भड़क गईं थीं। उन्होंने पुलिस से सुशांत हत्याकांड की जांच का मजाक नहीं बनाने को कहा था। ये बात उनकी टीम ने सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखी थी।

टीम कंगना ने रविवार दोपहर दो ट्वीट किए थे। जिनमें से पहले ट्वीट में लिखा, 'तो करन जौहर के मैनेजर को समन भेजा गया है, लेकिन आदित्य ठाकरे के बेस्ट फ्रेंड करन जौहर को नहीं। मुंबई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत हत्याकांड की जांच का मजाक बनाना बंद करो।'

पुलिस इतनी बेशर्मी कैसे दिखा सकती है?

अपने अगले ट्वीट में टीम कंगना ने लिखा था, 'समन जारी करने में भी मुंबई पुलिस खुलेआम इतनी बेशर्मी किस तरह दिखा सकती है? कंगना को समन भेजा गया, ना कि उसकी मैनेजर को, लेकिन मुख्यमंत्री के बेटे के सबसे अच्छे दोस्त के मैनेजर पूछताछ के लिए बुलाया गया है, क्यों? साहेब को परेशानी ना हो इसलिए?'

कंगना ने उठाया था महाराष्ट्र सरकार पर सवाल

इससे पहले इस केस में अबतक करन जौहर से पूछताछ नहीं होने को लेकर शनिवार को कंगना रनोट की टीम ने महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने लिखा था, 'पुलिस उन्हें कभी नहीं बुलाएंगी, क्योंकि वे उद्धव ठाकरे के बेस्ट फ्रेंड हैं। यह उनकी सरकार है और उन्होंने कंगना के इंटरव्यू से पहले यह केस बंद कर दिया था। यह इस बात का सबूत है कि वे अपने दोस्तों को बचा रहे हैं।'

कंगना के निशाने पर हैं करन

सुशांत की मौत के बाद से ही कंगना करन जौहर पर निशाना साध रही हैं। उन्होंने करन को बॉलीवुड माफिया बताते हुए उन पर आरोप लगाया है कि वे नेपोटिज्म और गुटबाजी को बढ़ावा देते हैं, जिससे परेशान होकर सुशांत ने खुदकुशी जैसा कदम उठाया। इतना ही नहीं, कंगना यह दावा भी कर चुकी हैं कि करन ने जानबूझकर अपनी फिल्म 'ड्राइव' को थिएटर्स की बजाय ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर सुशांत को फ्लॉप स्टार साबित करने और उनका करियर बर्बाद करने की कोशिश की थी।

अब तक 38 लोगों से हो चुकी पूछताछ

सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को अपने मुंबई स्थित फ्लैट में मृत पाए गए थे। पोस्टमॉर्टम और विसरा रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो चुका है कि उन्होंने आत्महत्या की थी। साथ पुलिस जांच में उनके डिप्रेशन में होने की बात सामने आई है। सुशांत डिप्रेशन में क्यों थे? और उन्होंने सुसाइड जैसा कदम क्यों उठाया? इन सवालों के जवाब जानने के लिए पुलिस 38 लोगों से पूछताछ कर चुकी है। इनमें कई बड़े नाम शामिल हैं।

Next Story
Share it
Top