Top
undefined

क्यों दर्द करते हैं आपके घुटने ? इससे निजात पाने के लिए क्या खाएं और क्या करें ...देखें

क्यों दर्द करते हैं आपके घुटने ? इससे निजात पाने के लिए क्या खाएं और क्या करें ...देखें
X

नई दिल्ली . हड्डियों से जुड़ी प्रारंभिक परेशानियों को अक्सर हम नजरअंदाज कर देते हैं। जैसे कि हड्डियों से कट-कट की आवाज आना. लोग इसे घुटने का घिस जाना कहते हैं, जब कि ये बात सिर्फ घुटने को लेकर नहीं है। शरीर के किसी भी हड्डी से, मांसपेशियों के टेंडन या लिगामेंट्स में रहने वाले द्रवों के बीच गैप आने पर हवा के नन्हें बुलबुले बनते हैं, जो उठने-बैठने या हड्डियों के मोड़ने पर आवाज करते हैं। वहीं जब ये 30 या 40 से कम उम्र के लोगों में होता है, तो इसे हमें अर्थराइटिस यानी कि गठिया का ही एक प्रारंभिक संकेत समझना चाहिए।

जिन लोगों को ये परेशानी लगातार रहती है, तो उन्हें ये हड्डियों के जोड़ों में लुब्रिकेंट की कमी का संकेत हो सकती है। इस समस्या के सबसे आसान कारण को समझें, तो ये कैल्शियम की कमी के कारण होती हैं, इसलिए शरीर में कैल्शियम को पूरा करने के लिए कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए।

घुटने में गठिया का सबसे आम रूप ऑस्टियोअर्थराइटिस ही है। ये गठिया ज्यादातर 50 वर्ष की उम्र के लोगों में होता है पर आज ये कम उम्र के लोगों में भी बढ़ रहा है। पुराने ऑस्टियोअर्थराइटिस में, घुटने के जोड़ में उपास्थि धीरे-धीरे दूर हो जाती है और उनके बीच में गैप आ जाता है। जैसा कि उपास्थि दूर हो जाती है, यह भुरभुरा और खुरदरा हो जाता है, और हड्डियों के बीच की सुरक्षात्मक जगह कम हो जाती है। इसके परिणामस्वरूप हड्डी पर हड्डी रगड़ सकती है, और दर्दनाक हड्डी स्पर्स का उत्पादन कर सकती है। ऑस्टियोअर्थराइटिस धीरे-धीरे विकसित होता है और इसके कारण होने वाला दर्द समय के साथ बिगड़ता जाता है।

अर्थराइटिस से बचाव के उपाय

-एक्सरसाइज करें।

-कैल्शियम की मात्रा सही रखने के लिए दूध और अंडे जैसे चीजों का सेवन करें।

-कैल्शियम D-3 का सेवन करें।

-सुबह 8 बजे से पहले वाली धूप लें।

-सूजन वाली जगहों पर बर्फ के पानी से सेके या बर्फ लगाएं।

- सूजन वाली जगह पर कभी मसाज न करें।

-क्रिम लगाकर हल्के हाथों से मालिश करें।

-अगर दर्द है और सूजन नहीं है, तो गर्म पानी से सिकाई करें।

Next Story
Share it
Top