Top
undefined
Breaking

बारिश के मौसम में नवजात शिशु को इंफेक्‍शन और बीमारियों से बचाने के तरीके

बारिश के मौसम में नवजात शिशु को इंफेक्‍शन और बीमारियों से बचाने के तरीके

बारिश के मौसम में नवजात शिशु को इंफेक्‍शन और बीमारियों से बचाने के तरीकेबारिश का मौसम सुहावना तो लगता है लेकिन अपने साथ कई बीमारियां भी लेकर आता है। वहीं बच्‍चों और शिशु का इस मौसम में खास ख्‍यान रखना पड़ता है क्‍योंकि बच्‍चों का इम्‍यून सिस्‍टम इतना मजबूत नहीं होता है कि वो बीमारियां एवं संक्रमणों से लड़ सकें।

यहां हम आपको मॉनसून में शिशु की देखभाल के लिए कुछ जरूरी बातें बता रहे हैं। नवजात शिशु की देखभाल में इन बातों का ध्‍यान रखकर भी अपने बच्‍चा का पहला मॉनसून आनंद से गुजार सकती हैं।

​मच्‍छरों से बचाव: मच्‍छर के काटने पर शिशु को बहुत तेज दर्द होता है और उसकी त्‍वचा पर लाल निशान या सूजन भी हो सकती है। इससे बचने के लिए शिशु को मॉस्किटो नैट के अंदर रखें। शिशु के कमरे के खिड़की-दरवाजे बंद रखें ताकि मच्‍छर अंदर न आ सकें।

प्राकृतिक चीजों से बनी मच्‍छर मारने की दवा का इस्‍तेमाल करें। शाम के समय बच्‍चों या शिशु को घर से बाहर न लेकर जाएं। हालांकि, अगर घर से बाहर निकलना जरूरी है तो बच्‍चे को पूरी बाजू के कपड़े जरूर पहनाएं।

घर को साफ रखें: बारिश के मौसम में गंदगी और मच्‍छर बहुत जल्‍दी पनपते हैं इसलिए अपने घर के हर कोने को साफ-सुथरा रखें। घर में किसी भी जगह पानी जमा न होने दें। घर का कोई भी कोना गीला नहीं होना चाहिए।

हफ्ते में दो या तीन बार जमीन पर कीटाणुनाशक से पोंछा लगाएं ताकि इंफेक्‍शन के इस मौसम में आप और आपका शिशु दोनों सुरक्षित रहें।

​डायपर बदलते रहें: गीले डायपर की वजह से बच्‍चे को जुकाम और डायपर रैश हो सकता है। मॉनसून में शिशु को गीला न छोडें और बार-बार नैपी चैक करते रहें। इसके अलावा शिशु को सूती कपड़े पहनाएं जो थोड़े मोटे भी हों। इससे न सिर्फ बच्‍चे के शरीर का तापमान नॉर्मल रहेगा बल्कि उसकी त्‍वचा भी सांस ले पाएगी।

​हाथ धोना है जरूरी: हाथों पर जमा कीटाणुओं से सबसे जल्‍दी पैरेंट्स और बच्‍चों के शरीर पर हमला होता है। बारिश के मौसम में हाथों को किसी अच्‍छे हैंडवॉश से धोते रहें। बच्‍चे के हाथों को भी समय-समय पर साफ करते रहना जरूरी है। अपने और शिशु के नाखूनों को छोटा रखें।

इसके अलावा अगर बच्‍चे ने ठोस आहार खाना शुरू कर दिया है तो उसे हर बार ताजा खाना बनाकर दें। शिशु को साफ बर्तन में खाना खिलाएं।

साफ पानी पिएं: बारिश के मौसम में सबसे ज्‍यादा बीमारियां गंदा पानी पीने से ही होती हैं। मॉनसून में दूषित पानी ज्‍यादा आता है जिससे पानी जनित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। संक्रमणों से बचने के लिए शिशु को हमेशा पानी उबालकर पिलाएं और खुद भी साफ पानी ही पिएं।

भीड़ और गंदी जगहों से दूर रहें: मॉनसून में बारिश की वजह से कीचड़ हो जाती है और फिर ये कीचड़ आपके पैरों में लगकर घर तक आ जाती है जिससे घर में गंदगी फैलती है। ऐसी जगहों पर जाने से बचें।

इसके अलावा ज्‍यादा भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी संक्रमण का अधिक खतरा रहता है। भीड़ और गंदी जगहों पर खुद भी जाने से बचें और अपने शिशु को भी लेकर न जाएं।

Next Story
Share it
Top