Top
undefined

ट्रंप का दावा- कोरोना वायरस के इलाज में मलेरिया दवा क्लोरोक्विन कारगर, इस्तेमाल की मंजूरी

ट्रंप का दावा- कोरोना वायरस के इलाज में मलेरिया दवा क्लोरोक्विन कारगर, इस्तेमाल की मंजूरी
X

न्यूयार्क. कोरोना वायरस से दुनियाभर में लगातार हो रही मौत और हजारों नए केस आने के बाद जहां स्थिति भयावह बनी हुई है तो वहीं दूसरी तरफ अमेरिका की तरफ से मलेरिया के खिलाफ इस्तेमाल होने वाली दवा को इसके इलाज में कारगर होने का दावा किया गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मलेरिया और अर्थराइटिस में इस्तेमाल होनेवाली दवा कोरोना वायरस के इलाज में बेहतर साबित हुई है।राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरूवार को कहा कि उनके प्रशासन की तरफ से गठित कोरोन वायरस टास्क फोर्स कोरोना वायरस मरीजों के इलाज के लिए एंटी मलेरिया ड्रग को मंजूरी दी है।

अमेरिका में कोरोना से अब तक 118 मौत की पुष्टि

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कोरोना वायरस टास्क फोर्स की ब्रीफिंग के दौरान कहा- मलेरिया और अर्थराइटिस में लंबे समये से इस्तेमाल होने वाली दवा है। ड्रोक्लोरोक्वीन जो डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन पर कोरोना वायरस के मरीजों के लिए 'फौरन उपलब्ध' कराई जाएगी। एसोसिएटेड प्रेस के मुताबिक, अमेरिका ने कोरोना वायरस से अब तक 7,701 मरीज और 118 मौत की पुष्टि की है।

एफडीए के प्रमुख स्टीफन हेन ने कहा कि एजेंसी को राष्ट्रपति की तरफ से निर्देश दिए गए हैं कि क्या क्लोरोक्वीन के इस्तेमाल को बढ़ाया जा सकता है, इस पर करीबी नजर रखे। उन्होंने चेताया कि क्लोरोक्वीन के प्रभाव की जानकारी जुटाने के लिए बड़े और तथ्यात्मक क्लीनकल ट्रायल की आवश्यकता है।

ट्रंप बोले- ये दवा हो सकता है गेम चेंजर

राष्ट्रपति ने इस बात की ओर इशारा किया है कि क्लोरोक्वीन/हैड्रोक्लोरोक्वीन का सबसे पहले न्यूयॉर्क में इस्तेमाल इसके खिलाफ किया जाएगा। कोरोना के इलाज के बारे में ट्रंप ने कहा- मैं ऐसा सोचता हूं कि यह बहुत कारगर होगा। यह गेम चेंजर हो सकता है।

Next Story
Share it