Top
undefined

इजराइल में रियूजेबल फेस मास्क तैयार, चार्जर की गर्मी से कोरोना वायरस मारने का दावा

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिए इजराइल में एक नए तरह का मास्क बनाया गया है। दावा है कि मास्क में लगाए फोन चार्जर से पावर लेकर कोरोना वायरस को मार सकता है।

इजराइल में रियूजेबल फेस मास्क तैयार, चार्जर की गर्मी से कोरोना वायरस मारने का दावा
X

इजराइल में मोबाइल चार्जर की मदद से कोरोना वायरस को मारनेवाला रीयूजेबल फेस मास्क बनाया गया है। मास्क का प्रोटोटाइप किसी आम एन95 मास्क की तरह दिखता है। इस मास्क में ही फोन का चार्जर कनेक्ट हो जाता है। चार्जर से पावर लेकर यह कोरोनावायरस को मार सकता है।

इजरायल में कोरोना वायरस को मारने वाला मास्क तैयार

हाएफा यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता प्रोफेसर याएर इन एली ने बताया, नए मास्क के सामने में एक वॉल्व, रबरबैंड और एक स्क्च पोर्ट लगाया गया है। स्क्च पोर्ट को पावर सोर्स से कनेक्ट किया जाता है। इससे मास्क के भीतर मौजूद कार्बन फाइबर की अंदरुनी सतह 70 डिग्री सेल्सियस तक गर्म हो जाती है। 70 डिग्री सेल्सियस की गर्मी वायरस को खत्म करने के लिए पर्याप्त मानी जाती है। मास्क को साफ करने की प्रक्रिया में लगभग 30 मिनट लगते हैं। उन्होंने चेताया कि इसे चार्ज होने के दौरान इसको इस्तेमाल में नहीं लाना चाहिए। एली ने कहा कि डिस्पोजेबल मास्क की महामारी काल में बहुत ज्यादा मांग होती है और ये ना तो पर्यावरण के अनुकूल होता है और ना ही जेब इसकी इजाजत देती है।

नया मास्क जेब और पर्यावरण के अनुकूल होने का दावा

इसलिए आपको मास्क दोबारा इस्तेमाल के योग्य और पर्यावरण के अनुकूल बनाने की जरूरत है। उनका कहना है कि ये नया मास्क ही इसका हल है। येरूशलेम में हदाशा मेडिकल सेंटर के संक्रामक रोग विशेषज्ञ प्रोफेसर एलोन मोसेस ने कहा, इसमें कोई सवाल नहीं है कि आधे घंटे में 70 डिग्री सेल्सियस की गर्मी कोरोना वायरस को मारने के लिए पर्याप्त होती है। शोधकर्ताओं ने मार्च के महीने में अमेरिका में मास्क को पेटेंट कराने के लिए आवेदन दिया है। निजी सेक्टर के साथ उत्पाद को बाजार में लाने की तैयारी पर उन्होंने चर्चा भी शुरू कर दी है। डिस्पोजल मास्क की कीमत के मुकाबले इसका दाम एक डॉलर रहने की संभावना है।

Next Story
Share it