Top
undefined

सऊदी सरकार का ऐलान, हमारे मुल्क के लोग ही हज यात्रा कर पाएंगे

सऊदी सरकार का ऐलान, हमारे मुल्क के लोग ही हज यात्रा कर पाएंगे
X

अबू धाबी/नई दिल्ली. कोरोनावायरस महामारी के बीच सऊदी अरब में इस साल हज यात्रा होगी, लेकिन नियम में बदलाव किया गया है। इस बार केवल सऊदी में रहने वाले लोग ही यात्रा कर सकेंगे। विदेशियों को इसकी इजाजत नहीं दी जाएगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस बार सीमित संख्या में ही लोगों को हज करने की अनुमति मिलेगी। सऊदी सरकार के इस फैसले के बाद भारत के 2.13 लाख जायरीनों का पूरा पैसा उनके अकाउंट में रिफंड कर दिया जाएगा केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने यह जानकारी दी। इस साल हज यात्रा 28 जुलाई से 2 अगस्त तक होनी थी।

11 सवाल-जवाब में समझें पूरा मामला

इस साल सऊदी के कितने लोग हज यात्रा कर सकेंगे?

हज मंत्री मोहम्मद बेंतेन ने मंगलवार को कहा- इस बार लगभग एक हजार लोगों को यात्रा की इजाजत होगी। यह संख्या थोड़ी कम या ज्यादा हो सकती है। हज से पहले सभी यात्रियों का कोरोना टेस्ट किया जाएगा। यात्रा के बाद उन्हें 14 दिन क्वारैंटाइन भी किया जाएगा।

हज में भारत का कोटा कितना है?

2 लाख। 2018 में भारत का कोटा 1.70 लाख से बढ़ाकर 1.75 लाख किया गया था। 2019 में कोटा बढ़ाकर 2 लाख कर दिया गया।

इस साल हज के लिए कितने लोगों ने आवेदन किया?

2020 में हज के लिए 2 लाख से ज्यादा लोगों ने आवेदन किया था। मार्च तक 1.18 लाख लोग रजिस्टर्ड हुए थे। इसमें से जून के पहले हफ्ते में 16 हजार लोगों से रजिस्ट्रेशन कैंसिल कराया था। वहीं, महरम (पुरुष साथी) के बिना इस साल 2300 से ज्यादा महिलाएं यात्रा करने वाली थीं। इन महिलाओं को इसी आधार पर 2021 में यात्रा पर भेजा जाएगा।

पिछले साल भारत के कितने लोग हज यात्रा पर गए थे?

2019 में 2 लाख लोगों ने हजयात्रा की थी। 1 लाख 40 हजार यात्री हज कमेटी ऑफ इंडिया और 60 हजार यात्री हज ग्रुप ऑर्गनाइजर (एचजीओ) के जरिए हज यात्रा पर गए।

भारत से जायरीनों से कितनी फीस ली गई?

2 लाख रुपए। ये दो किस्त में देने होते हैं।

क्या भारत में हजयात्रियों को सब्सिडी मिलती है?

अब नहीं। 2018 में सब्सिडी खत्म की गई थी। सरकार हर हज यात्री को करीब 37 हजार रुपए देती थी।

हज यात्रा रद्द हो गई है। भारतीय जायरीनों को फीस वापस कैसे मिलेगी?

फीस ऑनलाइन ही बैंक अकाउंट से जमा करनी होती है। अब अपने आप ही अकाउंट में रिफंड हो जाएगी। कोई पैसा नहीं काटा जाएगा।

इस साल कितने लोगों के सऊदी जाने का अनुमान था?

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल 20 लाख लोग हज यात्रा के लिए मक्का-मदीना पहुंच सकते थे।

इससे पहले कब हज यात्रा पर ऐसा प्रतिबंध लगा?

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, 1932 के बाद पहली बार हज यात्रा पर ऐसा प्रतिबंध लगाया गया है। इससे पहले युद्ध और छुआछुत की बीमारियों के कारण यात्रा रद्द किया गया था।

पिछले साल दुनियाभर से कितने लोग हज के लिए गए थे?

पिछले साल दुनिया के 180 से ज्यादा देशों के करीब 25 लाख यात्री हज पर गए थे। इनमें 18.6 लाख यात्री सऊदी से बाहर से आए थे। इंडोनेशिया से सबसे ज्यादा करीब 2.20 लाख लोग इसमें शामिल हुए।

हज से सऊदी अरब को कितनी आय होती है?

रिपोर्टों के मुताबिक, हज यात्रा और उमरा से सऊदी अरब हर साल करीब 1200 करोड़ डॉलर की कमाई करता है।

सऊदी में 1.61 लाख संक्रमित

सऊदी अरब में अब तक संक्रमण के 1.61 लाख मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1.05 लाख से ज्यादा ठीक हो चुके हैं। वहीं, 1307 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले हफ्ते ही यहां लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील दी गई है।

Next Story
Share it