Top
undefined

अमेरिकी नौसेना की एयरविंग में पहली बार अश्वेत महिला लड़ाकू पायलट, मेडलिन ने रचा इतिहास

अमेरिकी नौसेना की एयरविंग में पहली बार अश्वेत महिला लड़ाकू पायलट, मेडलिन ने रचा इतिहास
X

वॉशिंगटन। अमेरिका में पिछले कुछ दिनों से श्वेत और अश्वेत को लेकर हो रही बहस के बीच अमेरिकी नौसेना में अफ्रीकी मूल की लेफ्टिनेंट मेडलिन स्वीगल ने पहली अश्वेत महिला पायलट बनकर इतिहास रच दिया है।

अमेरिकी नौसेना की तरफ से नेवल एयर ट्रेनिंग कमांड द्वारा किए गए एक ट्वीट में मेडलिन की इस उपलब्धि के बारे में जानकारी दी गई है।

इसमें लिखा गया है कि ट्रेनिंग पूरी करने के बाद टेक्टिकल एयरक्राफ्ट (टेकएयर) उड़ाने वाली पहली अश्वेत महिला पायलट बन गई हैं। इससे पहले गुरुवार को अमेरिकी नेवी ने भी इसको लेकर एक ट्वीट किया था। नेवल एयर ट्रेनिंग कमांड ने अपने ट्वीट में कहा है कि फ्लाइंग ऑफिसर मेडलिन ने विंग्स ऑफ गोल्ड हासिल किया है। अमेरिकी नौसेना की एयरविंग में यह सम्मान पाने वाली वे पहली अश्वेत महिला हैं। उन्हें 31 जुलाई को एक समारोह में यह बैज दिया जाएगा।

2017 में यूएस नेवल अकादमी से डिग्री हासिल की

वर्जीनिया के बुर्के की रहने वाली मेडलिन ने वर्ष 2017 में यूएस नेवल अकादमी से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी। अधिकारियों के मुताबिक, उन्हें किंग्सविले में रेडहॉक्स ट्रेनिंग स्क्वाड्रन 21 की जिम्मेदारी दी गई है। पिछले महीने अमेरिकी नौसेना ने इस बात के संकेत दिए थे कि वह रंगभेद और नस्लवाद के मुद्दों को हल करना चाहती है। ताकि इन समुदायों से जुड़े लोगों के काम करने में मुश्किलें खत्म हों, नौसेना में इन्हें बराबरी से मौके मिलें।

नौसेना में सिर्फ 765 महिला पायलट, सभी रैंक में 7% कम

1974 में रोजमेरी मेरिनर एक टैक्टिकल फाइजर जेट उड़ाने वाली पहली महिला बनी थीं। अब 46 साल बाद स्वीगल ने नया इतिहास लिखा है। मिलिट्री डॉट कॉम के मुताबिक, फाइटर यूनिट में अश्वेत पायलट दुर्लभ हैं। पेंसकोला न्यूज जर्नल के अनुसार, 2018 तक नौसेना में 765 महिला पायलट थीं, जो रैंक के सभी पायलटों की तुलना में 7% कम थीं।

Next Story
Share it