Top
undefined

कोरोना की समस्या हल होने तक कोई चुनावी रैली नहीं करेंगे, वोटरों से जुड़ने के लिए टेलीफोनिक रैली कर रहे ट्रम्प

कोरोना की समस्या हल होने तक कोई चुनावी रैली नहीं करेंगे, वोटरों से जुड़ने के लिए टेलीफोनिक रैली कर रहे ट्रम्प
X

विस्कॉन्सिन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपनी सभी चुनावी रैलियां रोक दी हैं। इन रैलियों की जगह वह वोटरों से टेलीफोन के जरिए जुड़ेंगे। इसको टेलीफोनिक-रैली या टेली-रैली नाम दिया गया है।कोरोना संक्रमण बढ़ने और चारों तरफ से आलोचनाएं झेलने के बाद ट्रम्प ने यह फैसला लिया है। वे लगातार महामारी के प्रोटोकॉल तोड़ते रहे हैं। लेकिन, अब लगता है कि वे बैकफुट पर हैं। हाल ही में उन्होंने मॉस्क भी लगाया था।

ट्रम्प ने कहा- हमारे पास दुनिया का सबसे बेहतर टेस्टिंग प्रोग्राम

ट्रम्प ने शुक्रवार को विस्कॉन्सिन में अपनी पहली टैली रैली में कहा, ''मैं आपके साथ रहना चाहता हूं। हम वैक्सीन बनाने और इलाज ढूंढने की दिशा में बहुत अच्छा कर रहे हैं। लेकिन, जब तक यह समस्या हल नहीं हो जाती, बड़े पैमाने पर रैली करना कठिन होगा, इसलिए मैं टेलीफोनिक रैलियां कर रहा हूं। हम इन रैलियों को भी ट्रम्प रैली कहेंगे, लेकिन हम यह टेलीफोन के जरिए करेंगे।'' ट्रम्प ने अमेरिका के कोरोनावायरस टेस्टिंग प्रोग्राम की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह दुनिया में सबसे बड़ा और अच्छा प्रोग्राम है। अमेरिका में अभी तक 5 करोड़ से ज्यादा लोगों का टेस्ट किया जा चुका है।

टुलसा में हुई पहली रैली की भी बात की

ट्रम्प ने टेली रैली में टुलसा में हुई अपनी पहली रैली का भी जिक्र किया। उन्‍होंने कहा कि यह रैली यादगार रही। तमाम रुकावटों के बावजूद वहां जबर्दस्‍त भीड़ हुई। कोरोना संक्रमण के बीच 20 जून को ओकलाहोमा के टुलसा में रैली करने पर ट्रम्प सवालों के घेरे में आ गए थे। कोरोना के डर से उनकी रैली में बहुत कम लोग पहुंचे थे। अमेरिकी मीडिया के मुताबिक केवल 6 हजार लोग रैली में पहुंचे थे। यह भी बता गया कि ट्रम्प की रैली में सोशल डिस्टेंसिंग के कोई नियम नहीं थे।

तुलसा रैली में कई लोग संक्रमित हुए थे

ट्रम्प के इलेक्शन कैंपन के मुताबिक टुलसा रैली की तैयारी करने वाली टीम के छह मेंबर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक टुलसा रैली के बाद अमेरिका के कई सीक्रेट सर्विस के अधिकारियों ने खुद को 14 दिन के लिए क्वारैंटाइन कर लिया था। इनमें से दो कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। अमेरिका में अभी तक संक्रमण के 38 लाख 33 हजार 271 मामले सामने आए हैं और 1 लाख 42 हजार 877 लोगों की मौत हो गई है।

Next Story
Share it