Top
undefined

दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच रिश्तों में भारतीय-अमेरिकी महत्वपूर्ण हितधारक: राजदूत संधू

दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच रिश्तों में भारतीय-अमेरिकी महत्वपूर्ण हितधारक: राजदूत संधू
X

वाशिंगटन। अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने वाशिंगटन डीसी के और उसके आसपास रहने वाले भारतीय-अमेरिकी समुदाय के सदस्यों के साथ बृहस्पतिवार को एक ऑनलाइन बैठक कहा कि भारतीय-अमेरिकी समुदाय दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतंत्रों के बीच संबंध में महत्वपूर्ण हितधारक है। उन्होंने समुदाय के लोगों से भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास, कोविड-19 से उबरने के प्रयास और द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने में और अधिक सक्रिय भूमिका निभाने की अपील भी की।

कोविड-19 के कारण राजदूत तरणजीत सिंह संधू देशभर में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के सदस्यों के साथ ऑनलाइन बैठकें कर रहे हैं। यह इस तरह की सातवीं बैठक थी। संधू ने कहा, '' अमेरिका के साथ हमारे संबंधों में भारतीय-अमेरिकी समुदाय एक महत्वपूर्ण हितधारक है।'' उन्होंने कहा, '' हम चाहते हैं कि भारत में परिवर्तन लाने के लिए और भारत-अमेरिका के रिश्तों को मजबूत करने के लिए आप अपने विचार और सुझाव दें। हम कोविड-19 के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था को उबारने और उसके विकास के लिए आपको और सक्रिय भूमिका निभाते देखना चाहते हैं।'' राजदूत ने देश में फंसे भारतीयों की मदद के लिए भी समुदाय के सदस्यों का शुक्रिया अदा किया।

उन्होंने कहा, '' कोविड-19 के दौरान फंसे हुए भारतीयों तथा छात्रों तक पहुंचने में इससे मदद मिली। चिकित्सकीय सुझाव, हेल्पलाइन, रहने की अस्थायी व्यवस्था, खाने-पीने के सामान के लिए मदद कर आपने चुनौतियों से निपटने में हमारी मदद की। मुझे पता है कि आप में से कुछ ने भारत में स्थानीय तथा सामुदायिक संगठनों की मदद भी की और हम भारत के विकास में आपके योगदान का स्वागत करते हैं।'' उन्होंने कहा कि समुदाय से मिली प्रतिक्रिया के आधार पर सरकार ने यात्रा प्रतिबंधों में भी छूट दी है, विशेष श्रेणी के ओसीआई कार्ड धारक अब वंदे भारत विमानों में यात्रा कर सकते हैं।

वहीं इसके अलावा सरकार ने 31 दिसम्बर 2020 तक OCI कार्ड के नवीकरण में छूट देने की घोषणा भी की है। संधू ने कहा कि वैश्विक महामारी के दौरान भारत और अमेरिका निकटता से सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा, '' भारत और अमेरिका में हमारे वैज्ञानिक संस्थान आपसी सम्पर्क में हैं। हमारी दवा कम्पनियां टीका बनाने के लिए मिलकर काम कर रही है।

Next Story
Share it
Top