Top
undefined

दुनिया की पहली रूसी कोरोना वैक्सीन का उत्पादन शुरू, पहला बैच दो सप्ताह में

दुनिया की पहली रूसी कोरोना वैक्सीन का उत्पादन शुरू, पहला बैच दो सप्ताह में
X

नई दिल्ली। अमेरिका, ब्रिटेन, भारत, जापान सहित दुनिया के कई देशों को पछाड़ कर रूस ने पहली कोरोना वैक्सीन तैयार कर ली है। खुशखबरी यह है कि रूस की इस वैक्सीन 'स्पूतनिक वी' का उत्पादन शुरू हो गया है और इसका पहला बैच दो सप्ताह के भीतर आ जाएगा। रूस के स्वास्थ्यमंत्री मिखाइल मुरास्खो का कहना है कि पहले चरण में वैक्सीन स्वास्थ्यकर्मियों और उसके बाद शिक्षकों को लगाई जाएगी। रूस की कंपनी सिस्टेमा ने उत्पादन शुरू कर दिया है। सरकार की योजना है कि अक्तूबर में वैक्सीन को पूरे रूस में बड़े पैमाने पर लॉन्च कर दिया जाएगा।

रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार 1 जनवरी 2021 से वैक्सीन का पूर्ण रूप से वितरण शुरू करने की तैयारी है। स्वास्थ्यमंत्री के अनुसार ट्रेसिंग ऐप भी तैयार हो रहा है, जो लोगों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखेगा। ऐप से उन लोगों पर भी नजर रखी जाएगी, जिन्हें ये वैक्सीन लग गई है। अगर उन्हें किसी तरह की स्वास्थ्य संबंधी तकलीफ होती है तो इसकी सूचना क्षेत्रीय स्तर के स्वास्थ्य सेवा को मिलेगी। वैक्सीन का नाम दुनिया के पहले सैटेलाइट स्पूतनिक केनाम पर रखा गया है, जिसे सोवियत संघ ने लॉन्च किया था।

कई देशों ने इसे खरीदने का ऑर्डर भी दे दिया है लेकिन इसके कारगर और सुरक्षित होने पर सवाल अभी भी बने हुए हैं। इस वैक्सीन के रजिस्ट्रेशन के दौरान रूसी सरकार ने जो दस्तावेज पेश किएहैं, उनके मुताबिक इस वैक्सीन के सुरक्षित होने पर ही सवाल खड़ा हो गया है। दस्तावेजों से जो सबसे अहम जानकारी मिली है उसके मुताबिक वैक्सीन कितनी सुरक्षित है, इसे जानने के लिए क्लीनिकल स्टडी पूरी ही नहीं हुई है।

Next Story
Share it