Top
undefined

पाक में सिख लड़की के जबरन धर्मांतरण-विवाह मामले में खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह का चेहरा बेनकाब

पाक में सिख लड़की के जबरन धर्मांतरण-विवाह मामले में खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह का चेहरा बेनकाब
X

पेशावर। पाकिस्तान में एक साल पहले सिख ग्रंथी की लड़की जगजीत कौर के 'अपरहरण और जबरन धर्म परिवर्तन' के बहुचर्चित मामले में पाक अदालत द्वारा दोनों पक्षों के बीच समझौते करवाने का समाचार है । इस समझौते का एक वीडियो भी शेयर किया गया है जिसमें जगजीत कौर के भाई और पिता के अलावा जगजीत का मुस्लिम पति और उसके भी दिखाई दे रहे हैं। खास बात यह है कि इस वीडियो में भारत का कट्टर विरोधी खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला विचौलिए की भूमिका में दिख रहा है। दार-उल-अमन में लगभग एक वर्ष बिताने के बाद जगजीत कौर उर्फ आयशा बीबी को अपने मुस्लिम पति मुहम्मद के साथ जाने की अनुमति दे दी गई है।

जगजीत कौर उर्फ आयशा बीबी के भाई मनमोहन सिंह ने 29 अगस्त 2019 को अपनी बहन के 'अपहरण और जबरन उसका धर्मपरिवर्तन कर मुस्लिम बनाने' की FIR दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपों को झूठा बताकर FIR को ही रद्द कर दिया है। जगजीत के भाई मनमोहन सिंह ने FIR में दावा किया था कि उनकी बहन को लोगों के एक समूह ने बंदूक की नोक पर अगवा कर लिया। उनका जबरन धर्मपरिवर्तन कराते हुए मुहम्मद हसन से शादी करा दी गई। इसके बाद पुलिस ने हसन के कई परिजनों और दोस्तों को हिरासत में लिया था। हसने के वकील ने टीओआई ले कहा था कि , 'हसन ने कोर्ट को बताया कि न सिर्फ सिख समुदाय के लोग बल्कि स्थानीय पुलिस भी उनका और उनके परिवार का उत्पीड़न कर रही है।

उन्होंने अपनी पत्नी को दारुल अमन से जल्द रिहाई की भी मांग की, जहां उन्हें 29 अगस्त को शादी के बाद से ही रखा गया है।' बता दें कि यह मामला काफी चर्चित हुआ था। इस मामले में ननकाना साहिब पुलिस ने पहले दावा किया था कि लड़की अपने माता-पिता के घर लौट चुकी है, हालांकि यह दावा झूठा साबित हुआ। लड़की के भाई ने कहा था कि उसकी बहन घर नहीं आई है। यह मामला पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार, लड़कियों यहां तक कि नाबालिगों के जबरन धर्मांतरण और निकाह का एक और उदाहरण है ।

कौन है गोपाल सिंह

गोपाल सिंह चावला पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी का महासचिव है। उसे 26/11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का करीबी माना जाता है। 21 और 22 नवंबर को भारतीय उच्चायोग के राजनयिक अधिकारियों के साथ गुरुद्वारा ननकाना साहब और गुरुद्वारा सच्चा सौदा में हुई बदसलूकी में भी चावला का नाम सामने आया था। जांच एजेंसियों की एक बैठक में पाकिस्तान में मौजूद खालिस्तान समर्थक आतंकी गोपाल सिंह चावला को लेकर कई सूचनाएं साझा की गई थीं। इसमें कहा गया कि चावला पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और लश्कर-ए-तैयबा चीफ हाफिज सईद के साथ मिलकर पंजाब में आतंक फैलाने की साजिश रच रहा है।

Next Story
Share it