Top
undefined

कश्मीर मुद्दे पर दुनिया पाकिस्तान के साथ नहीं है, आर्थिक मजबूरियों के चलते इस मुद्दे पर भारत के खिलाफ कोई नहीं बोलता: इमरान खान

कश्मीर मुद्दे पर दुनिया पाकिस्तान के साथ नहीं है, आर्थिक मजबूरियों के चलते इस मुद्दे पर भारत के खिलाफ कोई नहीं बोलता: इमरान खान
X

​​​​​​​इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने माना है कि कश्मीर मुद्दे पर दुनिया पाकिस्तान के साथ नहीं है। उनके मुताबिक, दुनिया के लिए भारत बहुत बड़ा और संभावनाओं वाला बाजार है। इन्हीं आर्थिक मजबूरियों के चलते कश्मीर मुद्दे पर भारत के खिलाफ कोई आवाज नहीं उठाता। यह बात इमरान खान ने अल जजीरा चैनल को दिए गए इंटरव्यू में कही।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान का आर्थिक भविष्य चीन से जुड़ा है। जहां तक सवाल सेना और सरकार के रिश्तों का है तो यह बेहद अच्छे हैं। दोनों कंधे से कंधा मिलाकर काम करते हैं। सेना सरकारी नीतियों का समर्थन करती है। हम एक साथ खड़े हैं और मिल-जुलकर काम करते हैं।

पाकिस्तान और सऊदी अरब के रिश्ते अच्छे हैं- इमरान

पिछले दिनों सऊदी अरब ने कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ नहीं दिया था। इस पर इमरान सरकार ने नाराजगी जताई थी। इसके बाद पाकिस्तान और सऊदी अरब के रिश्तों में खटास भी आ गई थी। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने तो सऊदी अरब को बदला लेने की धमकी तक दे दी थी।

इस बारे में बात करते हुए इमरान ने कहा कि हम चाहते हैं कि ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (ओआईसी) हमारा साथ दे। लेकिन, पाकिस्तान और सऊदी अरब के रिश्ते अच्छे हैं। हम अब भी अच्छे दोस्त हैं।

भारत ने कश्मीर पर पिछले साल एकतरफा फैसला किया- इमरान​​​​​​​

कश्मीर मुद्दे पर इमरान ने कहा- कश्मीर विवादित क्षेत्र है। भारत ने पिछले साल पांच अगस्त को एकतरफा फैसला किया। अगर इस मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ता है तो इसका असर दुनिया पर भी पड़ेगा। दुनिया के लिए भारत बहुत बड़ा और संभावनाओं वाला बाजार है। उनके आर्थिक हित भारत से जुड़े हैं। लेकिन, पाकिस्तान इस मुद्दे पर संघर्ष करता रहेगा।

हमारा आर्थिक भविष्य सीधे तौर पर चीन से जुड़ा है​​​​​​​- इमरान

चीन और पाकिस्तान के रिश्तों पर इमरान ने कहा- हमारा आर्थिक भविष्य सीधे तौर पर चीन से जुड़ा है। चीन दुनिया में सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा है। पाकिस्तान को चीन से काफी फायदा होगा। उन्होंने जिस तरह से अपने लोगों को गरीबी से उबारा है, वैसा ही पाकिस्तान भी कर सकता है।

Next Story
Share it