Top
undefined

देश को रिपब्लिकन और डेमोक्रेट राज्यों में बांट रहे हैं राष्ट्रपति ट्रम्प: बाइडेन

देश को रिपब्लिकन और डेमोक्रेट राज्यों में बांट रहे हैं राष्ट्रपति ट्रम्प: बाइडेन
X

वॉशिंगटन। डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन ने एक बार फिर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर देश को बांटने का आरोप लगाया है। ट्रम्प और बाइडेन के बीच सुप्रीम कोर्ट में नए जज की नियुक्ति को लेकर जुबानी जंग तेज हो गई है। ट्रम्प ने एमी कोने बैरट को दिवंगत जस्टिस गिन्सबर्ग के स्थान पर जज नॉमिनेट कर दिया है। डेमोक्रेट पार्टी और बाइडेन इसका विरोध कर रहे हैं। उनके मुताबिक, यह संविधान के खिलाफ है।

बाइडेन ने कहा- राष्ट्रपति कई मुद्दों पर देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने अमेरिका का मतलब डेमोक्रेट स्टेट्स (ब्लू स्टेट्स) और रिपब्लिकन स्टेट (रेड स्टेट्स) समझ लिया है।

जोसेफ गोएवेल्स जैसा बर्ताव

बाइडेन में ट्रम्प की तुलना जोसेफ गोएवेल्स से की। गोएवेल्स नाजी दौर के जर्मनी में एडोल्फ हिटलर के प्रोपेगंडा मिनिस्टर थे। अमेरिका डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रभाव वाले राज्यों को ब्लू स्टेट जबकि रिपब्लिकन्स के प्रभाव वाले राज्यों को रेड स्टेट कहा जाता है। बाइडेन का आरोप है कि ट्रम्प अमेरिका को ब्लू और रेड स्टेट्स में बांट रहे हैं।

बाइडेन ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में ट्रम्प के उस दावे पर तंज कसा जिसमें राष्ट्रपति ने दावा किया था कि वे सोशलिस्ट एजेंडे पर काम कर रहे हैं। बाइडेन ने इसे ट्रम्प का प्रोपेगंडा बताते हुए उनकी तुलना हिटलर के मंत्री गोएवल्स से की। बाइडेन ने कहा- जिन लोगों ने अपना मन (वोटिंग के बारे में) बना लिया है, मुझे नहीं लगता कि वो राष्ट्रपति के इस दावे पर भरोसा करेंगे। लेकिन, कौन जानता है। वे लगातार झूठ बोल रहे हैं। और इसे दोहराते जा रहे हैं।

बाइडेन के मुताबिक, ट्रम्प लगातार झूठ इसलिए बोलते हैं ताकि सुनते-सुनते लोग इसे ही सच मानने लगें। हालांकि, बाइडेन ने भरोसा जताया कि चुनाव हारने पर ट्रम्प कुर्सी छोड़ देंगे। बाइडेन का यह बयान इसलिए अहम हो जाता है क्योंकि ट्रम्प ने पिछले दिनों दो बार ये कहा कि सत्ता के हस्तांतरण यानी ट्रांसफर ऑफ पावर की जरूरत नहीं पड़ेगी। ट्रम्प का दावा है कि यही सरकार जारी रहेगी। बाइडेन ने कहा- राष्ट्रपति सत्ता छोड़ देंगे।

जज की नियुक्ति पर बहस जारी

बाइडेन चुनाव नतीजों से पहले सुप्रीम कोर्ट में नई महिला जज की नियुक्ति या नॉमिनेशन का विरोध कर रहे हैं। ट्रम्प एमी कोने बैरेट को नॉमिनेट कर चुके हैं। हालांकि, इसके लिए अब सीनेट की मंजूरी चाहिए होगी। लेकिन, बाइडेन और पॉलिटिकल एक्सपर्ट्स नॉमिनेशन का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि परंपरा के मुताबिक, चुनावी साल में सुप्रीम कोर्ट में किसी नए जज की नियुक्ति नहीं की जाती।

बाइडेन ने कहा- अगर मैं राष्ट्रपति चुना जाता हूं तो मैं डेमोक्रेट प्रेसिडेंट नहीं रह सकता। मुझे अमेरिकी प्रेसिडेंट ही रहना होगा। ब्लू सिटी या रेड सिटी, मेरे लिए ये कोई मायने नहीं रखेंगे। मैं इसका वादा करता हूं। अमेरिका की हर कम्युनिटी को उनके राष्ट्रपति से बराबर और पूरी मदद मिलेगी। बाइडेन दरअसल, ट्रम्प के उस बयान पर तंज कस रहे थे जिसमें उन्होंने डेमोक्रेट सिटीज शब्द का इस्तेमाल किया था।

Next Story
Share it