Top
undefined

ताइवन मना रहा राष्ट्रीय दिवस, चीन ने धमकाने के लिए भेज दिए फाइटर जेट

ताइवन मना रहा राष्ट्रीय दिवस, चीन ने धमकाने के लिए भेज दिए फाइटर जेट
X

ताइवान। मौजूदा समय में चीन और ताइवान के बीच तनाव चल रहा है। चीन की नाराजगी को दरकिनार कर ताइवन अपना राष्ट्रीय दिवस (नेशनल डे) मना रहा है जिससे ड्रैगन भड़क गया है। ताइवान के नैशलन डे पर भी ड्रैगन धमकाने से बाज नहीं आया और चीन ने शुक्रवार शाम को नैशनल डे की पूर्व संध्‍या पर अपने लड़ाकू विमान ताइवान की सीमा के पास भेज दिए। ताइवन की सेना ने भी करारा जवाब देते हुए उन्‍हें तत्‍काल भगा दिया।

चीन ने इस साल अब तक 2,972 बार से ज्‍यादा अपने फाइटर जेट ताइवान की सीमा के पास भेजे हैं। चीन के युद्धक विमानों को भगाने पर ही ताइवान को करीब 90 करोड़ डॉलर खर्च करना पड़ा है। 10 अक्टूबर को ताइवान में वुचांग शासन की शुरुआत माना जाता है। इसी दिन यहां पर चीन के किंग साम्राज्य का अंत हुआ था और रिपब्लिक ऑफ चीन की स्थापना हुई थी। ताइवान के उपराष्‍ट्रपति लाइ चिंग टे ने ट्वीट करके बताया कि चीन ने हमारे ताइवान नैशनल डे की पूर्व संध्‍या पर एक बार फिर से हमें भड़काने के लिए अपने युद्धक विमान भेजे। लेकिन यह हमारे जश्‍न को नहीं रोक सकेगा। यह हमें क्षेत्र में शांति और स्थिरता की रक्षा करने से रोक नहीं सकेगा।

इससे पहले ताइवान के रक्षा मंत्री ने कहा था कि चीन के लगातार लड़ाकू विमानों के भेजने से हमारी सेना पर दबाव काफी बढ़ गया है। रक्षा मंत्री ने कहा कि उनके देश को गंभीर संकट का सामना करना पड़ रहा है। उधर, विशेषज्ञों का कहना है कि चीन ताइवान की सेना को थकाने के लिए लगातार अपने फाइटर जेट को ताइवान स्‍ट्रेट के पास भेज रहा है। चीन इन द‍िनों अमेरिका और ताइवान के बीच बढ़ते सहयोग से चिढ़ा हुआ है।

चीन के इसी संकट को देखते हुए ताइवान की राष्‍ट्रपति त्‍साई इंग वेन ने प्रण किया है कि वह देश की सुरक्षा को मजबूत करेंगी और क्षेत्रीय सुरक्षा के लिए काम करेंगी। इससे पहले चीनी सेना ने अमेरिका के विदेश उप मंत्री किथ क्राच के आने पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई थी और ताइवान जलडमरुमध्य के ऊपर 18 लड़ाकू विमानों को भेजा था और असमान्य तरीके से इतने बड़े पैमाने पर शक्ति प्रदर्शन किया था। ताइवान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक चीन ने दो बमवर्षक विमान सहित 19 लड़ाकू विमानों को भेजा था।

Next Story
Share it