Top
undefined

अस्पताल से लौटते ही ट्रंप ने फिर ड्रेगन को कोसा, कहा- 'चीनी वायरस' मिटा कर रहेंगे

अस्पताल से लौटते ही ट्रंप ने फिर ड्रेगन को कोसा, कहा- चीनी वायरस मिटा कर रहेंगे
X

लॉस एंजलिस। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोना वायरस को लेकर लगातार चीन को कोस रहे हैं। ट्रंप ने कोरोना इलाज के बाद अस्पताल से लौटते ही फिर चीन पर हमला बोला है। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में अपने संबोधन दौरान कहा कि अमेरिकी वैज्ञानिकों और दवाइयों की ताकत से हम लोग चीनी वायरस को हमेशा के लिए मिटा देंगे। ट्रंप कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद तीन दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहे। अस्पताल से लौटने के बाद राष्ट्रपति ट्रंप पहली बार जनता के सामने आए। इस दौरान व्हाइट हाउस की बालकनी से सैकड़ों की संख्या में आए मेहमानों से ट्रंप ने कहा, मैं आप सभी की दुआओं के लिए शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।

इस कार्यक्रम का आयोजन इसलिए किया गया था, ताकि लोगों को यह लगे कि राष्ट्रपति ट्रंप कोविड-19 से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। साथ ही वह डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। हालांकि, राष्ट्रपति को जनता के सामने आने के लिए उनके डॉक्टरों की तरफ से कोरोना संक्रमण से मुक्त होने का प्रमाणीकरण नहीं दिया गया। वहीं, व्हाइट हाउस ने गुरुवार से ट्रंप की सेहत को लेकर कोई अपडेट जारी नहीं किया है। इसके बाद भी, राष्ट्रपति ट्रंप ने शुक्रवार को रूढ़िवादी मीडिया हस्तियों के साथ कम से कम तीन घंटे तक बैठकर रेडियो और टेलीविजन साक्षात्कार दिए। फॉक्स न्यूज को दिए इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा, ऐसा लगता है कि मैं इम्यून कर रहा हूं, मुझे नहीं पता, शायद एक लंबे समय और शायद थोड़े समय के लिए, यह जीवनकाल के लिए भी सकता है, किसी को भी नहीं पता है, लेकिन मैं इम्यून हूं।

ट्र्रंप का यह बयान डॉक्टर द्वारा उन्हें कोरोना के ट्रांसमीशन के जोखिम नहीं होने की पुष्टि किए जाने के एक दिन बाद आया है। सैन्य अस्पताल में कोरोना वायरस का इलाज कराने के बाद ट्रंप चुनावी रैलियों को संबोधित करने के लिए बेताब नजर आ रहे हैं। इसके पीछे की वजह हाल के समय में अपने प्रतिद्वंदी जो बिडेन से पीछे होना है। जानकारी के अनुसार ट्रंप और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के बीच राष्ट्रपति पद के चुनाव से पूर्व होने वाली दूसरी बहस आधिकारिक रूप से रद्द हो गई है। ट्रंप द्वारा डिजिटल माध्यम से वर्चुअल बहस से इनकार करने के बाद प्रेसिडेंशियल डिबेट से जुड़े आयोग ने इसे रद्द करने का फैसला लिया। आयोग ने कहा, अब 15 अक्तूबर को होने वाली बहस नहीं होगी।

Next Story
Share it