Top
undefined

चीन के बाहर पहली बार चमगादड़ों में मिले कोरोना के वायरस, लैब के फ्रीजर में पड़े मिले

शोध जर्नल नेचर में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार कंबोडिया और जापान में एक लैब के फ्रीजर में रखे गए चमगादड़ में कोरोना के लिए जिम्मेदार वायरस SARS-CoV-2 पाए गए हैं। यह वायरस दो चमगादड़ों में पाया गया है।

चीन के बाहर पहली बार चमगादड़ों में मिले कोरोना के वायरस, लैब के फ्रीजर में पड़े मिले
X

लंदन । दुनिया में कोरोना महामारी का कहर तेजी से बढ़ रहा है। इस बीच कोरोना को लेकर अलग-अलग खुलासे हो रहे हैं। एक नई खबर के मुताबिक, जापान और कंबोडिया में लैब के फ्रीजर में रखे गए चमगादड़ों में कोरोना के जिम्मेदार सार्स-कोव-2 वायरस पाया है। एक शोध जर्नल नेचर में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, कंबोडिया और जापान में लैब फ्रीजर में रखे गए चमगादड़ में शोधकर्ताओं ने सार्स-कोव-2 वायरस पाया है। यही वायरस कोरोना के संक्रमण के लिए जिम्मेदार माना जाता है। कंबोडिया में वायरस एक फ्रीजर में रखे गए दो चमगादड़ों में पाया गया, जिन्हें 2010 में देश के उत्तर से पकड़ा गया है। इस बीच, जापान में एक टीम ने चमगादड़ के जमे हुए मल से भी कोरोना वायरस पाया। ये दोनों वायरस सार्स-कोव-2 से संबंधित ज्ञात वायरस हैं जो जो चीन के बाहर मिले हैं। अध्ययन में कहा गया है कि निष्कर्ष विश्व स्वास्थ्य संगठन के उस विचार का समर्थन करता है कि इस महामारी की छानबीन के लिए पशुओं की जांच बेहद जरूरी है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, क्या कोरोना वायरस SARS CoV-2 चमगादड़ों से सीधे लोगों तक पहुंचा या किसी बीच के माध्यम से यह लोगों में फैला इसको लेकर कोई भी जानकारी अब तक सामने नहीं आई है। हनोई के वियतनाम में वन्यजीव संरक्षण सोसायटी की एक विकासवादी जीवविज्ञानी एलिस लाटनी ने इस पर कहा कि यह दोनों खोजें रोमांचक हैं क्योंकि वे पुष्टि करते हैं कि कोरोना के लिए जिम्मेदार वायरस SARS-CoV-2 चमगादड़ों में अपेक्षाकृत सामान्य है। उन्होंने कहा कि यह ये भी दर्शाता है कि यह वायरस चीन के बाहर पाए जाने वाले चमगादड़ों में भी है।

Next Story
Share it