Top
undefined

टीके की खुराक को बर्बाद करने के आरोप में विस्कोन्सिन अस्पताल का कर्मी गिरफ्तार

विभाग ने एक विज्ञप्ति में बताया वह अब जेल में हैं। हालांकि पुलिस ने उसकी पहचान जाहिर नहीं की है और कहा है कि अभी औपचारिक तौर पर आरोप दर्ज नहीं हुए हैं।

टीके की खुराक को बर्बाद करने के आरोप में विस्कोन्सिन अस्पताल का कर्मी गिरफ्तार
X

(अमेरिका) कोरोना वायरस के टीके की खुराक को दो रातों से जानबूझकर फ्रीज से बाहर निकालकर उसे खराब करने के संदेह में गुरुवार को प्राधिकारियों ने विस्कोन्सिन के उपनगर मिलवाउके में एक फार्मासिस्ट को गिरफ्तार कर लिया। द ग्राफ्टन पुलिस विभाग ने बताया कि 'एडवोकेट औरोरा हेल्थ केयर' के फार्मासिस्ट को लापरवाही से जान को खतरे में डालना, दवाई के साथ छेड़छाड़ करने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। विभाग ने एक विज्ञप्ति में बताया वह अब जेल में हैं। हालांकि पुलिस ने उसकी पहचान जाहिर नहीं की है और कहा है कि अभी औपचारिक तौर पर आरोप दर्ज नहीं हुए हैं। एडवोकेट औरोरा हेल्थ केयर के मुख्य चिकित्सा समूह अधिकारी जेफ बार ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन के दौरान बृहस्पतिवार दोपहर में बताया कि फार्मासिस्ट ने जानबूझकर मॉडर्ना टीके की 57 शीशियों को 24 दिसंबर की रात में फ्रीज से बाहर निकाला और फिर उसे 25 दिसंबर को फ्रीज में रख दिया। इसके बाद उसने फिर 25 दिसंबर (शनिवार) की रात में बाहर निकाल दिया। इसके बाद रविवार सुबह एक कर्मी ने फ्रीज के बाहर इन शीशियों को पाया। कर्मियों ने इससे 57 लोगों को टीका लगाया। बार का कहना है कि ये खुराक प्रभावी नहीं हैं। उन्होंने बताया कि संबंधित कर्मी ने जानबूझकर टीके को फ्रीज से बाहर निकाला लेकिन उन्होंने व्यक्ति के इरादे पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि उसे नौकरी से निकाल दिया गया है और पुलिस जांच कर रही है। वहीं मॉडर्ना के अधिकारियों ने बताया है कि खराब टीके से किसी तरह की सुरक्षा संबंधी चिंता नहीं है।

Next Story
Share it