Top
undefined

इटली में 12 अप्रैल तक बढ़ा लॉकडाउन, देश में कोरोना से 11000 से अधिक की मौत

इटली ने अब तक इस संक्रमण के खिलाफ जो कुछ भी सफलता हासिल की है, उस पर पानी न फिर जाए। कोंते ने स्पेन के अल पाइस अखबार से कहा, "लगभग तीन हफ्ते के बंद ने आर्थिक हालात खराब कर दिए हैं।

इटली में 12 अप्रैल तक बढ़ा लॉकडाउन, देश में कोरोना से 11000 से अधिक की मौत
X

रोम, इटली ने कोरोना वायरस संक्रमण को जड़ से खत्म करने की खातिर लॉकडाउन की अवधि अप्रैल माह के मध्य तक बढ़ा दी है। यहां इस संक्रमण के कारण दुनिया में सर्वाधिक 11,591 लोगों की मौत हुई है। प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंते ने सोमवार (30 मार्च) को कहा कि बंद में किसी भी तरह की ढील धीरे-धीरे करके ही दी जाएगी, ताकि इटली ने अब तक इस संक्रमण के खिलाफ जो कुछ भी सफलता हासिल की है, उस पर पानी न फिर जाए। कोंते ने स्पेन के अल पाइस अखबार से कहा, "लगभग तीन हफ्ते के बंद ने आर्थिक हालात खराब कर दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री रोबर्टो स्पेरांजा ने बाद में घोषणा की, "बंद संबंधी सभी कदम कम से कम 12 अप्रैल तक, यानि ईस्टर तक जारी रहने वाले हैं।" पहले बंद की अवधि शुक्रवार (3 अप्रैल) को खत्म होने वाली थी। इस वैश्विक महामारी को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन करने की पहल करने वाला इटली पहला पश्चिमी देश था। यहां इस संक्रमण के मामले 1,00,000 से अधिक हो चुके हैं। अब यहां संक्रमण फैलने की रफ्तार भी कम होती दिख रही है।

इटली में कोरोना से एक लाख से अधिक संक्रमित

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बुरी तरह प्रभावित इटली में इसके संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11,591 हो गई है, जबकि इससे संक्रमित लोगों की तादाद एक लाख को पार कर 101,739 हो गई है। इटली में रविवार (29 मार्च) की तुलना में सोमवार (30 मार्च) को कोरोना से मरने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है। नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रमुख एंजेलो बोरेली के मुताबिक सोमवार को इटली में कोरोना संक्रमण के चार हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं जिससे अब तक कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 101,739 हो गई है। इन संक्रमितों में वे लोग भी शामिल हैं, जिनकी इस महामारी से मौत हो चुकी है या जो पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। इटली में अब तक कोरोना के 14,620 मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। इटली में 21 फरवरी को कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। गौरतलब है कि इटली का लोम्बाडीर् प्रांत इस महामारी से सर्वाधिक गंभीर रूप से प्रभावित है।

Next Story
Share it