Top
undefined

पाकिस्तान में 13 साल की ईसाई लड़की का जबरन निकाह कराया, मौलवी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

पाकिस्तान में 13 साल की ईसाई लड़की का जबरन निकाह कराया, मौलवी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी
X

कराची। पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों का अपहरण कर जबरन धर्म परिवर्तन कराने की घटनाओं की खबरें लगातार आती रहती हैं। इस बीच, पाकिस्तान की एक अदालत ने एक नाबालिग ईसाई लड़की का जबरन धर्म परिवर्तन कराकर इस्लाम कुबूल करने के आरोप में एक मौलवी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है।

नाबालिग लड़की ने 16 अक्तूबर को जबरन धर्म परिवर्तन कराने के मामले में काजी मुफ्ती अहमद जान रहीम के साथ ही अपने पति और उसके चार अन्य रिश्तेदारों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। नाबालिग लड़की की ओर से मामला दर्ज कराए जाने के बाद से मौलवी फरार है।

एक और मामले में आरोपी है मौलवी

यह मौलवी एक अन्य मामले में भी धर्मांतरण और एक अन्य लड़की का जबरन निकाह पढ़वाने के लिए भी आरोपित है। लिहाजा, कराची में एक मजिस्ट्रेटी अदालत ने इस मौलवी के खिलाफ एक गैर जमानती वारंट जारी किया है। यह मामला दर्ज कराने वाली ईसाई लड़की ने आरोप लगाया है कि उसे अगवा कर उससे जबरन इस्लाम कुबूल कराया गया। जबरन उसका निकाह मुहम्मद इमरान नाम के एक आदमी से कराया दिया गया।

Next Story
Share it