Top
undefined

पाकिस्तान कोविड-19 संकट से निपटने के प्रयासों के बाद भी नाकाम रहा: यूएनडीपी

पाकिस्तान कोविड-19 संकट से निपटने के प्रयासों के बाद भी नाकाम रहा: यूएनडीपी
X

नई दिल्ली . संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) ने कहा है कि दुनिया भर की स्थानीय सरकारें वर्तमान कोविड -19 संकट के मामले में सबसे आगे आकर काम कर रही थीं, लेकिन पाकिस्तान में ये संस्थान एक हद तक अपने नागरिकों से कटे हुए थे। यहां की "शासन शैली ऊपर से नीचे की ओर प्रतिक्रियाशील और आधिकारिक हैं।"

डॉन-न्यूज ने सोमवार को यूएनडीपी के पहले "कोविड-19 - पाकिस्तान सोशियो-इकॉनॉमिक इम्पैक्स असेसमेंट एंड रिस्पांस प्लान" में कही गई बातों का हवाला दिया। इसमें कहा गया है कि राज्य-समाज का आवश्यक सामाजिक अनुबंध कमजोर होने से यह देश में हाशिए पर गया।

पाकिस्तान में महामारी को रोकने पयार्प्त प्रयासों के बावजूद, परिणाम खराब रहे हैं। ट्रेडर्स और बिजनेसमैन, संघीय सरकार के एकतरफा फैसलों से असंतुष्ट हैं क्योंकि इससे उनका कारोबार खासा प्रभावित हुआ है। यह भी कहा गया कि चिकित्सा स्वास्थ्य पेशेवरों को पीपीई (व्यक्तिगत सुरक्षात्मक उपकरण) की अनुपलब्धता और परीक्षण- ट्रैकिंग में एक कुशल प्रणाली की कमी, इसके प्रबंधन की खामियों को उजागर कर रहे हैं।

आबादी का गरीब वर्ग चिंतित हैं क्योंकि उन्होंने अपनी आजीविका खो दी है। कई लोग दैनिक मजदूरी पर निर्भर हैं। डॉन न्यूज ने रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि ऐसा माना जाता है कि चुनी हुई स्थानीय सरकारों को सरकार और आबादी के बीच एक प्रभावी सेतु बनाना चाहिए था, ताकि वर्तमान स्थिति में नागरिकों को सरकारी फैसलों पर भरोसा न खोना पड़ता। हालांकि देश में एक राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन योजना है लेकिन इस महामारी ने बताया है कि स्थानीय सरकारों को जिला आपदा प्रबंधन जैसी मजबूत आपातकालीन प्रबंधन प्रणालियों की भी आवश्यकता है।

Next Story
Share it