Top
undefined

कोविड-19 पर यूएनजीए का विशेष सत्र

यूएनजीए की प्रेस विज्ञप्ति में बुधवार को कहा गया कि “दुनिया में 15 लाख लोगों की मौत, 6.2 करोड़ मामले और इतिहास के अब तक के सबसे बड़े सामाजिक और आर्थिक संकट में से एक कोविड-19 पर नियंत्रण और इससे उबरना अंतर्राष्ट्रीय प्राथमिकता है।

कोविड-19 पर यूएनजीए का विशेष सत्र
X

संयुक्त राष्ट्र । संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) के अध्यक्ष वोल्कन बोजकिर कोविड-19 महामारी को लेकर शुक्रवार को महासभा के 31वें विशेष सत्र की मेजबानी करेंगे। यूएनजीए की प्रेस विज्ञप्ति में बुधवार को कहा गया कि "दुनिया में 15 लाख लोगों की मौत, 6.2 करोड़ मामले और इतिहास के अब तक के सबसे बड़े सामाजिक और आर्थिक संकट में से एक कोविड-19 पर नियंत्रण और इससे उबरना अंतर्राष्ट्रीय प्राथमिकता है। इसमें कहा गया कि संयुक्त राष्ट्र के सदस्य राज्यों ने महामारी को प्रतिबिंबित करने और "कोविड-19 वैक्सीन तक पहुंच समेत इन हालातों से उबरने के लिए एकजुट होकर रास्ता बनाने के लिए" संयुक्त राष्ट्र का विशेष सत्र आयोजित करने के लिए मजबूर किया है। बोजकिर ने कहा, "कोविड-19 एक वैश्विक संकट है। इसने संरचनात्मक असमानताओं का खुलासा किया और हमारे समाजों के सबसे कमजोर सदस्यों को प्रभावित किया। विशेष सत्र हमें कोविड-19 को मात देने के लिए एक साथ आने का मौका देगा। वैश्विक स्तर पर इससे उबरने के लिए अरबों डॉलर बहाए जा रहे हैं। इस समय दुनिया विश्व नेतृत्व के लिए संयुक्त राष्ट्र की ओर देख रहा है, यह बहुपक्षवाद के लिए एक परीक्षा है। मुझे विश्वास है कि महासभा एक रास्ते को आगे बढ़ाने में सक्षम होगी और हमारी सेवा लोगों की पीड़ा को खत्म करेगी।" दो दिवसीय विशेष सत्र में गुरुवार को आम बहस होगी और इसमें विशेषज्ञों, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और प्रमुख वैज्ञानिकों के साथ संवाद होंगे।

Next Story
Share it